DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सांसद सीताराम यादव पर अपहरण की प्राथमिकी

सांसद सीताराम यादव एवं उनके पुत्र व अंगरक्षक पर एक मामले के साक्षी को अगवा करने की प्राथमिकी बुधवार को डुमरा थाने में दर्ज की गयी है। यह प्राथमिकी नानपुर थानान्तर्गत बागरवन निवासी राम प्रमोद सहनी द्वारा थाना में दिये आवेदन के आलोक में दर्ज की गयी है। इससे पूर्व रामप्रोद सहनी ने एक आवेदन विशेष न्यायाधीश के न्यायालय में भी दिया था। जिसमें उसने कहा है कि सांसद सीताराम यादव सहित अन्य लोगों के विरुद्ध विशेष न्यायाधीश के न्यायालय में चल रहे एक मुकदमे के साक्षीफकीरा राम को लेकर बुधवार को न्यायालय आ रहा था। इसी बीच डुमरा स्थित पोस्ट ऑफिस के पास दो गाड़ी आयी और जबरन गाली-गलौज करते हुए उसे जान मारने की धमकी देते हुए एक गाड़ी पर बैठा लिया गया। जबकि फकीरा राम को दूसरे गाड़ी में बैठा कर अन्यत्र ले जाया गया। बाद में उसे न्यायालय परिसर में आकर छोड़ दिया गया।ड्ढr ड्ढr मालूम हो कि नानपुर थानान्तर्गत नया टोल गांव के रामनंदन चामार ने वर्ष 2003 में एक मुकदमा दाखिल कर आरोप लगाया था कि उसको पर्चा द्वारा मिले जमीन पर जबरन सांसद सीताराम यादव सहित अन्य लोग कब्जा कर लिया। बाद में मामले के सूचक रामनंदन चामार ने सांसद सीताराम यादव सहित अन्य लोगों से समझौता भी कर लिया और इस आशय का गवाह रामनंदन चामार सहित अन्य लोग विशेष न्यायाधीश के न्यायालय में दर्ज भी करवा चुका है। मामला बुधवार को मामले के अनुसंधानकर्ता की गवाही के लिए लंबित था और इसी मामले में सांसद सीताराम यादव, उनके पुत्र कृष्ण कुमार यादव सहित तीन लोग उपस्थित थे। दूसरी आेर सांसद सीताराम यादव ने कहा कि जिस तरह का आरोप रामप्रमोद सहनी ने लगाया है उस तरह की कोई घटना घटित नहीं हुई है। रामप्रमोद सहनी एक मुकदमेबाज व्यक्ित है जो उन पर कई मुकदमा किया है अथवा करवा दिया है। उन्होंने कहा कि मुकदमा रामनंदन चमार ने किया है। जिससे समझौता हो गया है। रामप्रमोद सहनी इस लंबित मामले के न तो साक्षी है और न ही पैरवी कार है। गलत ढंग से पैसा ऐंठने की सोची समझी राजनीति के तहत रामप्रमोद सहनी ने गलत आरोप लगाया है। सांसद सीताराम यादव के अधिवक्ता विमल शुक्ला ने बताया कि गलत आरोप लगाने के लिए रामप्रमोद सहनी पर 182, 211 का मुकदमा चला कर उसे अविलंब गिरफ्तार जाना चाहिए। उधर डुमरा से सी.का. के अनुसार रामप्रमोद सहनी ने फकीरा राम के अगवा के मामले में सांसद सीताराम यादव, उनके पुत्र कृष्ण कुमार यादव और राजद नेता मो. असद सहित सशस्त्र बल एवं अंगरक्षक सहित कई लोगों को प्राथमिकी का नामजद अभियुक्त बनाया गया है। डुमरा थाना प्रभारी ने बताया कि फकीरा राम की बरामदगी के संबंध में कार्रवाई की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सांसद सीताराम यादव पर अपहरण की प्राथमिकी