अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

353 व्याख्याताओं की नियुक्ित की प्रक्रिया पूरी

रांची विवि में जेपीएससी की अनुशंसा के आधार पर 353 व्याख्याताओं की नियुक्ित की प्रक्रिया पूरी कर ली गयी है। इससे संबंधित संचिका पर 28 फरवरी को देर शाम वीसी प्रो एए खान ने हस्ताक्षर कर दिये। इसकी अधिसूचना शुक्रवार को जारी होने की संभावना है। व्याख्याताओं की नियुक्ित सशर्त की गयी है। इसमें शर्त रखा गया है कि हाइकोर्ट के फैसले पर उनका भविष्य निर्भर करेगा। हाइकोर्ट द्वारा नियुक्ित पर रोक हटाये जाने के बाद पदस्थापन की प्रक्रिया गुरुवार की सुबह वीसी के घर पर शुरू हुई। पैरवीकारों के बोलबाले के कारण यह प्रक्रिया काफी गोपनीय रखे जाने की बात कही गयी। विवि के उच्चाधिकारी भी मानते हैं कि हर तरह की पैरवी का दबाव है। पदस्थापन में लगे विवि अधिकारियों के घरों पर भी भीड़ देखी गयी। विवि अधिकारियों के अनुसार पदस्थापन के लिए कुछ मापदंड तय किये हैं। इसके मुताबिक शादीशुदा महिलाओं को उनके गृहनगर या नजदीकी स्टेशन पर पदस्थापित किया जाना है। युवतियों को भी जगह रिक्त रहने पर गृहनगर में प्राथमिकता दी जायेगी। टॉपरों को भी उनके गृहनगर या नजदीकी स्टेशन दिये जाने की योजना है। सामान्य कोटि, विकलांग, एसटी, एससी और पिछड़ा वर्ग कोटि के टॉपरों को यह लाभ मिलेगा, परंतु रिक्ितयों के आधार पर ही यह व्यवस्था प्रभावी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 353 व्याख्याताओं की नियुक्ित की प्रक्रिया पूरी