अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज से रांची, हजारीबाग और दुमका कारा से रिहा होंगे कैदी

। एक माह पूर्व राज्य सरकार द्वारा लिये गये निर्णय के आलोक में एक मार्च से कैदियों को रिहा करने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गयी। एक मार्च को कारा मुख्यालय से पहले चरण में 2ैदियों को रिलीज ऑर्डर जारी किया गया। दो मार्च को 2में से छह कैदी होटवार स्थित भगवान बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा से, 13 कैदी हजारीबाग स्थित जेपी कारा और 10 कैदी दुमका स्थित केंद्रीय कारा से रिहा किये जायेंगे। 42 बंदी होटवार स्थित भगवान बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा से, 34 हजारीबाग स्थित जेपी केंद्रीय कारा से और 28 बंदी दुमका स्थित केंद्रीय कारा से रिहा किये जाने हैं। कुल 104 को रिहा किया जाना है।ड्ढr एक फरवरी को राज्य सजा पुनरीक्षण समिति की बैठक मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की अध्यक्षता में हुई थी। इसमें 104 कैदियों को रिहा करने का निर्णय लिया गया था। सभी कैदी आजीवन कारावास की सजा काट रहे वृद्ध हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के आलोक में गठित पर्षद ने आजीवन कारावास की सजा काट रहे 130 कैदियों के मामलों में सुनवाई की। सभी कैदियों के बारे में सात बिंदुआें पर एसपी और डीसी की रिपोर्ट के आधार पर समीक्षा की गयी थी। समीक्षा के दौरान 16 मामलों को अस्वीकृत किया गया था। दस मामलों को लंबित रखा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आज से रांची, हजारीबाग और दुमका कारा से रिहा होंगे कैदी