अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खून चढ़ाने को लेकर एनएमसीएच में हंगामा

बच्ची को रक्त चढ़ाने में हुई देरी को लेकर परिजनों ने एनएमसीएम में हंगामा मचाया तथा इसको लेकर अस्पताल अधीक्षक डा. एन.पी. यादव का घेराव किया। अधीक्षक ने इसे गंभीरता से लेते हुए रक्त चढ़ाने की व्यवस्था की। जानकारी के अनुसार नीम की भट्ठी (आलमगंज थाना) की बारह वर्षीया बच्ची निधि कुमारी का इलाज बच्चा बार्ड में चल रहा था। रक्त की कमी से ग्रसित बच्ची को चिकित्सकों ने उसे रक्त चढ़ाने की सलाह दी। अस्पताल के रक्त अधिकोश कर्मचारियों द्वारा बिजली नहीं की बात कहकर रक्त देने से इनकार कर दिया।ड्ढr ड्ढr परिजनों ने पीएमसीएच से रक्त की व्यवस्था की। परिजनों द्वार चढ़ाने का निवेदन इमरजेंसी में पदस्थापित चिकित्सकों एवं अन्य स्वास्थ्यकर्मियों से किया गया। पिता शंकर प्रसाद ने बताया कि तीन बजे से पांच बजे तक पूरे वार्ड में ब्लड लेकर घूमते रहे लेकिन किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। सभी ने बच्चा वार्ड की बात कहकर टाल दिया। जबकि बच्चा वार्ड की इमरजेंसी सेंट्रल इमरजेंसी से नियंत्रित होती है। सूचना मिलने पर अधीक्षक स्थिति की जानकारी लेने इमरजेंसी पहुंचे। आक्रोशित परिजनों ने व्यवस्था को लेकर घेराव किया। अधीक्षक की पहल पर बच्ची को ब्लड चढ़ाया जा सका। अधीक्षक के बताया कि बच्चा वार्ड में स्वास्थ्यकर्मी के अनुपस्थित रहने के कारण यह समस्या उत्पन्न हो गई थी। ड्यूटी पर अनुपस्थित पाए गए कर्मियों पर कर्रवाई करने की बात कही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खून चढ़ाने को लेकर एनएमसीएच में हंगामा