अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार के कथनी-करनी में अंतर नहीं

सूबे के कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह ने कहा कि साढ़े आठ करोड़ बिहारियों की पंसद वाली सतारूढ़ राजग सरकार की कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। किसानों की बदहाली के लिए केन्द्र में सतारूढ़ यूपीए सरकार को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराते हुए कांग्रेस पार्टी को लफुआ नेताआें की जमात कहा।ड्ढr ड्ढr जद(यू) के किसान सभा द्वारा पुनपुन सभागार में शनिवार को आयोजित पटना जिला किसान सम्मेलन का दीप प्रज्वलित करने के बाद अपने संबोधन में कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह ने कहा कि लंबे समय से उपेक्षा के कारण किसान फटेहाल है। सवा दो वषर्ो के नीतीश सरकार ने अपने चुनावी घोषणा क ो लागु कर न केवल अपराधियों को पस्त किया, बल्कि विकास के साथ-साथ किसानों को मान-सम्मान, शिक्षा, आर्थिक दशा सुधार हेतु कदम उठाए। बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सवालिया लहजे में कहा कि जब किसानों को ऋण ही समुचित नहीं मिला तो माफी से क्या फायदा। सम्मेलन की अध्यक्षता किसान सभा के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार ने की। लघु सिचाई मंत्री विश्व मोहन कुमार ने सरकार के विकास कायर्ो पर प्रकाश डाला।ड्ढr ड्ढr जद (यू) किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष अशोक कुमार वर्मा, विधायक पूनम देवी, सरयुग पासवान, मुख्य सचेतक श्रवण कुमार प्रखंड प्रमुख पुनम देवी, प्रदेश प्रधान महासचिव सुरेश सिंह, युवा जद (यू) नेता धनन्जय सिंह, प्रखंड अध्यक्ष महेन्द्र सिंह, अनिल सिंह, विधान पार्षद बाल्मिकी सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष नवविन्द सिंह, हृदेश कुमार एवं अन्य मुख्य रुप से उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकार के कथनी-करनी में अंतर नहीं