अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फारबिसगंज में जहरीले भोजन से 400 बीमार

विषाक्त भोजन खाने से शनिवार की रात फारबिसगंज में लगभग चार सौ से अधिक लोग बीमार हो गये हैं। जिनमें लगभग तीन दर्जन बच्चे एवं महिलाएं शामिल हैं। सभी मरीजों का इलाज स्थानीय रेफरल अस्पताल के अलावा शहर के अन्य निजी क्लीनिकों में किया जा रहा है।ड्ढr ड्ढr बीमार लोगों में तीन दर्जन की हालत नाजुक बतायी जाती है। घटना की जानकारी मिलने पर सिविल सर्जन ने अररिया से चिकित्सकों की टीम फारबिसगंज के लिए भेजी है। बीमार लोगों में कांग्रेस जिलाध्यक्ष की पत्नी समेत मुखिया आदि भी शामिल हैं। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि शनिवार की रात्रि लगभग आठ बजे स्थानीय सुल्तान पोखर स्थित प्रफुल्ल आनंद के यहां भोज था। वहां खाना खाने के बाद लोगों को पेट दर्द, उल्टी तथा तेज बुखार होने के बाद उनलोगों के परिजनों द्वारा आनन-फानन में रेफरल अस्पताल लाया गया। रविवार की सुबह बीमारों की संख्या बढ़कर करीब चार सौ तक पहुंच गयी। पीड़ितों का इलाज कर रहे डा. श्रवण कुमार ने बताया कि भोजन के किसी पदार्थ में फुड प्वाइजनिंग होने से ये लोग बीमार हो गये हैं। वहीं डा. अजय कुमार ने बताया कि दूध से बने किसी पदार्थ में स्टेफायलों कोकलनामक जहर का यह मामला लगता है। चिकित्सकों ने बताया कि तीन दर्जन मरीजों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। रेफरल प्रभारी हरि किशोर सिंह द्वारा इस मामले की सूचना अररिया सिविल सर्जन को दूरभाष पर देने पर सिविल सर्जन ने चिकित्सकों की एक टीम स्थानीय रेफरल अस्पताल भेजी है। इधर पीड़ितों की हालत में सुधार हो रहा है तथा फारबिसगंज के थानाध्यक्ष चित्तरंजन ठाकुर ने अस्पताल पहुंचकर मरीजों से बयान लिया है।ड्ढr ड्ढr स्थानीय रेफरल समेत अन्य क्लीनिकों में इलाज करा रहे मरीजों में कांग्रेस जिलाध्यक्ष की पत्नी कुमुद देवी, मुखिया कंचन माला देवी, पंकज मेहता, धरजीवन कुमार, आशो कुमारी, सुनीता देवी मिश्रा, पुनम कुमारी, हेमंत कुमारी, सुमन कुमारी, सतीश कुमार, जूही , पुनम कुमारी, हेमंत कुमार, राजेन्द्र सहनी, मोनू मंडल, ध्रुव कुमार, प्रो. रामनाथ चौधरी, विजय यादव, शिक्षिका सोनी, मंतू कुमारी, सुनीता देवी आदि शामिल हैं। शहर के विभिन्न क्लीनिकों में मरीजों की संख्या चार सौ से अधिक बतायी जाती है। इधर प्रफुल्ल आनंद ने भोज में बेहतर गुणवत्तापूर्ण खाना बनाने की बात कहते हुए कहा कि उन्हें मालूम नहीं कि ऐसा कैसे हो गया। उन्होंने मिठाई स्थानीय अंकित स्वीट्स से आर्डर कर मंगवाने की बात कही। थानाध्यक्ष चित्तरंजन ठाकुर ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फारबिसगंज में जहरीले भोजन से 400 बीमार