DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत के दौरे पर आना,हम भी देख लेंगे!

ऑस्ट्रेलियाई दर्शक और मीडिया हरभजन सिंह को बेवजह टारगेट न करें, वरना इसका परिणाम अच्छा नहीं होगा। अगर ऐसा जारी रहा तो विश्व चैंपियन भी भारत में अच्छे व्यवहार की उम्मीद न करें। यह कहना है भारतीय क्रिकेट कंट्रेाल बोर्ड के सचिव निरंजन शाह का। पहले फाइनल में दर्शकों ने हरभजन पर बंदर जैसी हरकत करने का आरोप लगाया था। इस आरोप से भज्जी तो बरी हो गए लेकिन निरंजन शाह ने कहा, ‘साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया को भारत आने दो, फिर देखना भारतीय दर्शक क्या करते हैं?’ड्ढr शाह ने कहा, ‘यह अच्छी बात नहीं है, लोगों को इसे भूल जाना चाहिए। जब आपकी टीम यहाँ आएगी और मीडिया ने इसे तरजीह दी तो इसी तरह का व्यवहार उनके साथ भारत में हो सकता है।’ बोर्ड ने भज्जी से कहा है कि वह दर्शकों और विपक्षी खिलाड़ियों के उकसावे में न आएँ क्योंकि अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। हरभजन को सचिन जैसे सीनियर खिलाड़ियों से सीखना चाहिए।’ इस बीच मैच रेफरी जैफ क्रो ने भज्जी को क्लीन चिट देते हुए कहा, ‘समाचार पत्रों की रिपोर्ट पढ़ने के बाद मैंने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सुरक्षा अधिकारियों के साथ इस कथित वाकिए की जाँच की। सभी जानकारियों की समीक्षा के बाद मैं इस नतीजे पर पहुँचा कि हरभजन के खिलाफ कार्रवाई करने की कोई जरूरत नहीं है।’ड्ढr उधर, ब्रिसबेन पहुँचे हरभजन ने कहा कि सिडनी में दर्शकों ने उनसे बहुत भद्दे मजाक किए, मसलन अपनी ‘नॉट दिखाआे और अपना हेयरकट कराआे’। भज्जी ने कहा उनका पूरा ध्यान मैच पर था और वह दर्शकों की बातों को नजरअंदाज कर रहे थे। दर्शकों की शिकायत के बारे में भज्जी ने कहा कि उन्होंने कुछ किया ही नहीं था तो उनके खिलाफ सबूत कहाँ से आते।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारत के दौरे पर आना,हम भी देख लेंगे!