अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेडिकल कॉलेजों में कैंपस इंटरव्यू से होगी नियुक्ित

संसदीय कार्य मंत्री लालजी वर्मा ने सोमवार को विधानसभा में कहा कि सरकार मेडिकल कालेजों में चिकित्सा शिक्षकों की कमी दूर करने के लिए कैंपस इंटरव्यू के जरिए शिक्षकों की नियुक्ित के प्रस्ताव पर विचार करेगी। वह चिकित्सा शिक्षा विभाग के बजट पर अपना जवाब दे रहे थे। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री अनंत कुमार मिश्र ने कहा कि लखनऊ में बालरोग अस्पताल खुलेगा और कानपुर, वाराणसी व जौनपुर सहित पाँच शहरों में ट्रॉमा सेंटर खुलेंगे। कानपुर नगर में 100 शैया का एक अस्पताल इसी साल बनाया जाएगा। बहस के बाद चिकित्सा शिक्षा, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभागों का बजट पारित कर दिया गया। मंत्री ने अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी स्वीकार की और कहा कि अपेक्षा के अनुसार डॉक्टर नहीं मिल रहे हैं। लोकसेवा आयोग से चयनित होने के बावजूद आधे डॉक्टर ज्वाइन नहीं करते। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार निजी क्षेत्र में मेडिकल कालेज खोलने को प्रोत्साहन देगी। प्रदेश में अभी मात्र छह निजी मेडिकल कालेज हैं, जबकि मानक के अनुसार 3होने चाहिए।ड्ढr चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री अनंत कुमार मिश्र ने कहा कि वह स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग को सार्थक दिशा में ले जाना चाहते हैं। पाँच साल में यह विभाग रंग लाएगा। उन्होंने कहा कि जिनके पास बीपीएल और अंत्योदय कार्ड नहीं हैं, उनको मुफ्त चिकित्सा की व्यवस्था सीएमओ और सीएमएस अपने विवेक से कर सकते हैं। उन्होंने घोषणा की कि अब एक भी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) किराए के भवन में नहीं चलेगा और हर ब्लॉक में एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खुलेगा। हर महिला अस्पताल में एक बालरोग विशेषज्ञ अनिवार्य रूप से तैनात होगा।ड्ढr कटौती पेश करते हुए डॉ. पी.के. राय और डॉ. राधामोहन दास अग्रवाल ने स्वास्थ्य एवं चिकित्सा, परिवार कल्याण व चिकित्सा शिक्षा विभागों की खामियाँ गिनाईं। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय जाँच केंद्रों को लीज पर देने और स्वास्थ्य व्यवस्था को पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप में देने की तैयारी की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मेडिकल कॉलेजों में कैंपस इंटरव्यू से होगी नियुक्ित