DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आम आदमी की जिंदगी को याद करते हैं ओबामा

दुनिया का ‘नंबर एक खास शख्स’ बनकर बराक आेबामा रोमांचित तो हैं, लेकिन आम आदमी की हैसियत से बिताया गया हर लम्हा उन्हें याद आ रहा है। आेबामा को आम आदमी की तरह गली-कूचों व पाकर्ों में सैर-सपाटा करने, गुनगुनी धूप सेंकते हुए कॉफी का लुत्फ उठाने और किसी दुकान में बैठकर सूयर्ोदय होते देखने के सुख से वंचित होने का मलाल है। एक जर्मन महिला ने आेबामा से राष्ट्रपति बनने के अनुभव के बारे में क्या पूछा, आेबामा भावुक हो गए। इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘‘उन्मुक्त आजादी के वो दिन मुझे याद आते हैं जब मैं आम आदमी की हैसियत से सैर-सपाटा किया करता था और किसी दुकान में बैठकर उगते सूरज को झांका करता था।’’ जर्मन शहर हिडेलबर्ग की इस महिला के सवाल ने आेबामा को अतीत के झरोखे से झांकने को मजबूर कर दिया। सीएनएएन ने आेबामा को यह कहते हुए उृत किया, ‘‘अब मैं हमेशा सख्त सुरक्षा घेरे में रहता हूं। मुझ पर एक वतन के करोड़ों लोगों की उम्मीदों का भार है। जब मैं पहले यूरोप यात्रा पर हुआ करता था तो कॉफी हाउस में आरामतलबी के मूड होता था। किसी बार हाउस में थोड़ी शराब भी लेता था और लोगों को आते-जाते देखकर मुग्ध हुआ करता था।’’ वैसे, अगले ही क्षण आेबामा जज्बात की जद से निकलकर व्यावहारिकता की धरातल पर नजर आए और गर्व के साथ कहा कि जनता की सेवा करने के मौके से बढ़कर दूसरा बड़ा मौका कुछ और नहीं हो सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आम आदमी की जिंदगी को याद करते हैं ओबामा