अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंडियों की पहचान महारैली को लेकर प्रचार शुरू

17 मार्च की प्रस्तावित महारैली को झामुमो ने झारखंडियों की पहचान महारैली का नाम दिया है। पार्टी ने राजधानी सहित पूरे राज्य में होर्डिग लगाना शुरू कर दिया है। महारैली को सफल बनाने की बागडोर पार्टी महासचिव और पूर्व विधायक दुर्गा सोरेन ने खुद संभाल रखा है। शिबू सोरेन के बाद वह पार्टी के अकेले ऐसे नेता हैं, जो महारैली को सफल बनाने के लिए जिला और गांवों का दौरा कर रहे हैं। दुर्गा सोरेन कहते हैं कि महारैली को सफल बनाना उनके लिए चुनौती है। झारखंड की जनता आज भी शिबू सोरेन के साथ है, यह महारैली में लोगों की उपस्थिति से ही साबित हो जायेगा। महारैली में आम लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने की जिम्मेवारी जिला और प्रखंड कमेटियांे को दी गयी है।ड्ढr महिला, युवा और छात्र मोरचा सहित पार्टी के अन्य प्रकोष्ठों के पदाधिकारी और सदस्य सक्रिय हैं। सभी को पार्टी द्वारा पोस्टर उपलब्ध कराया जा रहा है। झारखंड युवा मोरचा के अध्यक्ष विनोद पांडेय ने कहा कि महारैली के मद्देनजर राजधानी को पोस्टर और बैनर से पाट दिया जायेगा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: झारखंडियों की पहचान महारैली को लेकर प्रचार शुरू