DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीयों ने गाबा पर जमकर मनाया जश्न

एक लड़ाई जो जितनी मैदान के अंदर लड़ी गई उतनी ही मैदान के बाहर भी चली। लेकिन गाबा के मैदान पर इसका अंत हुआ खुशी से उछलते -कूदते भारतीय क्रिकेटरों की धूम के साथ। अपनी स्विंग से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों गिलक्रिस्ट, पॉन्टिंग, क्लार्क और ब्रेट ली का शिकार करने वाले मेरठ के पहलवान प्रवीण कुमार मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार लेते ही मंच से कूद पड़े। क्योंकि वह पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मार्क टेलर के सवालों के जवाब देने से बचना चाहते थे। आखिर वह अपनी गेंदों के जरिए काफी कुछ बोल चुके थे। साथी खिलाड़ी उन्हें वापस मंच में भेजने की तरफ धकलेने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन पहलवानी शरीर वाले प्रवीण पर किसी का जोर न चल सका।ड्ढr हरभजन सिंह एक विकेट हाथ में लेकर छाती चौड़ी कर जमकर हो-हल्ला कर रहे थे। खिलाड़ी खुशी से झूम कर एक दूसरे को गले लगा रहे थे। आखिर वह उस टीम का हिस्सा जो थे, जिसने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर उसे मात देकर इतिहास रच दिया था। यह जश्न उन 11 खिलाड़ियों तक ही सीमित नहीं रहा जो मैच में खेले। अंगुली में चोट के कारण फाइनल में नहीं खेले दिल्ली के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा अंतिम विकेट गिरते ही तेजी से दौड़ते हुए मैदान में घुसे और उनके पीछे-पीछे टीम के सपोर्ट स्टॉफ के सदस्य भी उछलते हुए जश्न में शरीक हो गए। वहीं ऑस्ट्रेलियाई ड्रेसिंग रूम मानो इस जश्न में कहीं खो गया था। ट्रॉफी मिलते ही युवराज सिंह ने शैंपेन खोली और साथियों को भिगो दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारतीयों ने गाबा पर जमकर मनाया जश्न