अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कब्जे हटाने गए दस्ते पर पथराव

उजरियाँव में अपनी ही जमीन से अवैध कब्जे हटाने गए एलडीए के दस्ते पर गाँव वालों ने पथराव किया और झोपड़ी में आग लगा दी। इस पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इस घटना में कई गाँव वाले घायल हो गए और अभियान बीच में ही रोक दिया गया। इसके अलावा शहर की कई कॉलोनियों में घरों के आगे बने गैराज, किचेन गार्डेन और चबूतरे एलडीए के दस्तों ने तोड़े।ड्ढr एलडीए ने बुधवार को कई इलाकों में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया। गोमती नगर के आगे उजरियाँव गाँव में कुछ भूखण्डों पर झोपड़ियाँ और चहारदीवारी बनी हुई थीं। यहाँ पर एलडीए के अधिकारी पहुँचे तो तीन भूखण्डों को लेकर गाँव वालों का कहना था कि यह जमीन इन्तिजार हुसैन उर्फ नह्न्े के नाम है और इस पर उनके पुरखों की कब्रें हैं।ड्ढr एलडीए का कहना था कि यह अवैध कब्जा है। जब बुलडोजर से बाउण्ड्री तोड़नी शुरू की तो इसी बीच किसी ने एक झोपड़ी में आग लगा दी। गाँव वालों ने एलडीए के दस्ते पर पथराव शुरू कर दिया। इस पर पुलिस ने लाठियाँ चलाकर उन्हें खदेड़ा। इस दौरान एक बच्ची रहनुमा खातून घायल हो गई। अन्य कई लोगों को भी चोटें आई हैं। उसके बाद बीच में ही अभियान रोक दिया गया। एलडीए अधिकारियों के मुताबिक बाद में फिर बाउण्ड्री गिराकर अवैध कब्जा खाली करा लिया गया।ड्ढr उधर जानकीपुरम के सेक्टर-एच में भी लोगों के घरों के आगे बने अवैध चबूतरे, किचेन गार्डेन और गैराज तोड़े गए। यहाँ लोगों ने आरोप लगाया कि एलडीए के अधिकारी चुन-चुनकर लोगों के कब्जे तोड़ रहे हैं। कई प्रभावशाली लोगों के अवैध कब्जे उन्होंने नहीं तोड़े। यहाँ पर कई गुमटियाँ, ठेले और होर्डिग भी हटाए गए। इसके अलावा एलडीए कॉलोनी कानपुर रोड, के सेक्टर-जी और एच, गोमती नगर के सेक्टर-एक, दो, तीन और चार में भी लोगों के घरों के आगे अवैध कब्जे तोड़े गए।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कब्जे हटाने गए दस्ते पर पथराव