DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत से दोगुने से ज्यादा है चीन का रक्षा बजट

चीन इस वर्ष रक्षा पर 5अरब डालर खर्च करेगा जो भारत के रक्षा बजट से दोगुने से भी ज्यादा है, जबकि गत वर्ष की घोषित रकम 45 अरब डालर थी। भारत के वित्त मंत्री पी.चिदंबरम ने गत 2रवरी को आम बजट में रक्षा पर 26.5 अरब डालर खर्च करने का प्रावधान किया था। पश्चिमी देशों का मानना है कि चीन आधिकारिक आंकड़ों से तिगुनी से ज्यादा रकम रक्षा पर खर्च करता है। इस लिहाज से गत वर्ष चीन ने वास्तव में से 13अरब डालर रक्षा पर खर्च किया। यह माना जाता है कि चीन के रक्षा बजट में नए हथियारों की खरीद पर खर्च होने वाली रकम शामिल नहीं की जाती। चीन इस समय करीब 30 परमाणु और अन्य पनडुब्बियों के अलावा विमानवाही पोत, उपग्रहनाशी मिसाइलें आदि बना रहा है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन की एक रिपोर्ट के बाद चीन ने अपने रक्षा बजट का खुलासा किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन का रक्षा खर्च पारदर्शी नहीं होने के कारण क्षेत्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्थिरता के लिए खतरनाक है। चीन ने पहली बार अपने रक्षा बजट में वृद्धि की तुलना अमेरिका, फ्रांस, रूस जैसे देशों के अलावा भारत से भी की है। चीन का कहना है कि वह अपने सकल घरेलू उत्पाद का सिर्फ 1.4 फीसदी ही रक्षा पर खर्च कर रहा है, जबकि अमेरिका 4.3 फीसदी, ब्रिटेन 3 फीसदी, फ्रांस दो फीसदी, रूस 2.63 फीसदी और भारत 2.5 फीसदी रक्षा पर खर्च करता है। चीनी संसद के प्रवक्ता के मुताबिक, इस वर्ष चीन के रक्षा बजट में 17.6 फीसदी का इजाफा किया गया है, जबकि भारत ने दस फीसदी का इजाफा किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारत से दोगुने से ज्यादा है चीन का रक्षा बजट