अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंडिया-जापान फ्री ट्रेड एग्रीमेंट विषयक सेमिनार संपन्नभारत-जापान समझौता होने से अर्थव्यवस्था मजबूत होगी : रजी

राज्यपाल सैयद सिब्ते रजी ने कहा है कि जापान के साथ भारत के व्यापारिक समझौते से दोनों देशों की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी। साथ ही बेहतर तकनीक और उत्पादों का आदान-प्रदान भी संभव हो सकेगा। ग्लोबलाइजेशन के दौर में व्यापार-उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप जरूरी है। राज्यपाल बुधवार को होटल कैपिटोल हिल में फिक्की और फेडरेशन चैंबर के संयुक्त तत्वावधान में इंडिया-जापान फ्री ट्रेड एग्रीमेंट पर आयोजित सेमिनार में विचार व्यक्त कर रहे थे। रजी ने कहा कि कंज्यूमर मार्केट में तेजी से विस्तार हो रहा है। भारतीय अर्थव्यवस्था छह प्रतिशत वार्षिक की औसत से बढ़ रही है। पिछले चार वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था आठ प्रतिशत की दर से बढ़ी है, जबकि पिछले साल इसकी दर नौ प्रतिशत थी। इससे साफ पता चलता है कि भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत हो रही है।ड्ढr जापान-भारत समझौते से काफी लाभ मिलेगा। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री सुधीर महतो ने कहा कि झारखंड में खनिज संपदा के साथ-साथ प्राकृतिक संपदा की भरमार है। लघु एवं कुटीर उद्योगों की तमाम संभावनाएं यहां हैं। अगर यहां के उत्पादों की सही मार्केटिंग हो, तो अंतराष्ट्रीय बाजार में इसकी पहचान बन जायेगी। अर्थशास्त्र की विशेषज्ञ रश्मि बांगा ने कहा कि भारत-जापान के बीच ट्रेड एग्रीमेंट एक सार्थक पहल है। वर्तमान में 476 उत्पादों को इसके लिए चयनित किया गया है। भारतीय उत्पादों में बनारसी साड़ी, लखनवी चिकेन कारीगरी, मुजफ्फरपुर के लीची का व्यापार किया जा सकता है। इसके साथ-साथ तकनीकी संसाधनों का भी आदान-प्रदान किया जा सकता है।ड्ढr फिक्की के मानव मजुमदार और चैंबर अध्यक्ष मनोज नरेडी ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर राज्यपाल के प्रधान सचिव अमित खरे, चैंबर के पूर्व अध्यक्ष विष्णु बुधिया, ललित केडिया, अजरुन जालान, अरुण बुधिया, विनोद पोद्दार, उपाध्यक्ष अंचल किंगर, सचिव सुरेशचंद्र अग्रवाल, आयोजन समिति की सोनी मेहता, प्रवीण लोहिया, मनीष टांटिया सहित बड़ी संख्या में राज्यों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।तकनीकी सत्र में विशेषज्ञों ने रखे विचारड्ढr रांची। भारत-जापान के बीच फ्री ट्रेड एग्रीमेंट को लेकर आयोजित सेमिनार के तकनीकी सत्र में कई विशेषज्ञों ने विचार रखे। इसमें एचइसी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक जीके पिल्लई, उद्योग विभाग के निदेशक सुनील कुमार, चैंबर के पूर्व अध्यक्ष महेश पोद्दार सहित विभिन्न स्थानों से आये विशेषज्ञों ने व्यापार नीति पर चर्चा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: इंडिया-जापान फ्री ट्रेड एग्रीमेंट विषयक सेमिनार संपन्नभारत-जापान समझौता होने से अर्थव्यवस्था मजबूत होगी : रजी