अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूरोपीय संघ ने ईरान को चेताया

ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी ने ईरान द्वारा अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा आयोग (आईएईए) को अपने परमाणु कार्यक्रम के बारे में दिए जानकारी को चुनौती देते हुए कहा है कि अगर ईरान अपना परमाणु कार्यक्रम जारी रखता है तो उसे गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। आईएईए में ब्रिटेन के राजदूत साइम स्मिथ ने अपने भाषण में कहा कि आईएईए ने ईरान से उसके परमाणु कार्यक्रम के अनेक मुद्दों पर स्पष्टीकरण मांगा था, लेकिन ईरान ने जो उत्तर दिए हैं वह संतोषप्रद नहीं है। उन्होंने कहा कि ईरान के उत्तर से हम संतुष्ट नहीं हैं और अभी भी उसकी गतिविधियां शंका पैदा करने वाली हैं। गौरतलब है कि ईरान ने वियना में आईएईए गवनर्स की बैठक में इस बात से साफ तौर पर इनकार किया था कि वह चोरी चुपके परमाणु बम बना रहा है। ईरान के राजदूत ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा उनके देश पर लगे प्रतिबंध के बावजूद ईरान द्वारा शांतिपूर्ण कायर्ो के लिए चलाए जा रहे परमाणु कार्यक्रमों पर कोई असर नहंी पड़ेगा।ड्ढr उधर 35 सदस्यीय आईएईए ने ईरान द्वारा अपने परमाणु कार्यक्रम के बारे में उपलब्ध कराई गई जानकारी पर संतोष तो जताया लेकिन कहा कि ईरान को अभी इस बारे में बहुत कुछ करना बाकी है। गौरतलब है कि ईरान अपने परमाणु कार्यक्रम को केवल बिजली उत्पादन करने के लिए बताता रहा है। लेकिन उसके इस बारे में चुप्पी और आईएईए के पर्यवक्षेकों द्वारा इस कार्यक्रम को परमाणु बम बनाने में प्रयुक्त किए जाने की शंका जाहिर करने के बाद अंतरराष्ट्रीय हलकों में इस पर चिंता जताई जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूरोपीय संघ ने ईरान को चेताया