अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दफ्तर में ही खुदकुशी की चेष्टा

राजधानी में वीरचंद पटेल पथ स्थित परिवहन विभाग के दफ्तर में गुरुवार की शाम उस समय अफरातफरी मच गई जब अपने चैम्बर में ही आर्थिक तंगी और कम वेतन मिलने से आहत होकर एक सहायक ने खुदकुशी की कोशिश कर डाली। लूहलुहान स्थिति में सहायक प्रेम नारायण पटेल को पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। अपने कार्यालय कक्ष में पटेल ने अचानक किसी धारदार हथियार (चाकू) से गर्दन पर प्रहार कर लिया। कोतवाली थाने की पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।ड्ढr ड्ढr घायल सहायक प्रेम नारायण पटेल पाटलिपुत्र थानांतर्गत नेहरू नगर के राम नगर इलाके में किरायेदार के रूप में रहते हैं। मौके पर मौजूद परिवहन कर्मियों के मुताबिक पिछले 10 वर्षो से पटेल व अन्य कर्मचारी आधे वेतन पर ही काम कर रहे हैं। आर्थिक तंगी से तंग आकर उन्होंने यह आत्मघाती कदम उठाया।ड्ढr ड्ढr कर्मचारियों को इसका पता उस समय चला जब एक चपरासी ने पटेल के कक्ष में फर्श पर खून देखे। तत्काल उसने शोर मचाते वहां मौजूद अन्य पदाधिकारियों व कर्मचारियों को इसकी सूचना दी। जब कर्मी वहां दौड़ कर पहुंचे तो खून से लथपथ प्रेम नारायण मिले। सूचना मिलने के बाद कोतवाली थाने के अपर थानाध्यक्ष डी. सी. श्रीवास्तव ने दल-बल के साथ मौके पर पहुंच कर छानबीन की। हालांकि पुलिस अधिकारियों ने फिलहाल घटना के कारणों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं होने की बात कही।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दफ्तर में ही खुदकुशी की चेष्टा