अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शेयर बाजार को लगा तगड़ा झटका

विदेशी शेयर बाजारों की मंदी और मंहगाई के पिछले दस माह के उच्च स्तर पर पहुंच जाने के समाचारों के बीच देश के शेयर बाजारों को शुक्रवार को जोरदार झटका लगा। बम्बई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 557 अंक तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के निफ्टी ने 150 अंक की डुबकी लगाई। कारोबार के दौरान शेयर बाजारों में खासी उठापटक देखी गई। सरकार के मंहगाई को काबू में करने के सभी प्रयासों को दरकिनार करते हुए सकल उपभोक्ता थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति की दर 23 फरवरी को समाप्त हुए सप्ताह में दस माह के बाद फिर से पांच प्रतिशत से ऊपर 5.02 प्रतिशत पर पहुंच गई। बुधवार को शेयर बाजार इससे पहले के तीन कारोबारी दिवस की तगड़ी गिरावट के बाद संभलने में सफल हुए थे। गुरुवार को महाशिवरात्रि का अवकाश था। अमेरिका के शेयर बाजार समेत विश्व के अन्य स्टॉक एक्सचेंजों की कमजोर हालत ने भारतीय शेयर बाजारों को भी अपने शिंकजे में ले लिया। बीएसई का सेंसेक्स बुधवार के 16542.08 अंक की तुलना में 16211.अंक नीचे खुला और यही सत्र का अधिकतम स्तर भी रहा। कारोबार में सेंसेक्स 16 हजार अंक से नीचे उतरकर 1568अंक तक गिरा और समाप्ति पर इसकी तुलना में 286 अंक सुधरने के बावजूद 566.56 अंक अर्थात 4.42 प्रतिशत के नुकसान से 15अंक पर बंद हुआ। एनएसई का निफ्टी 140 अंक अर्थात 3.04 प्रतिशत गिरकर 4771.60 अंक रह गया। बीएसई में बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि इसका एक भी वर्ग का सूचकांक टूटने से बच नहीं सका। मिडकैप और स्मालकैप में क्रमश 30तथा 400.61 अंक की गिरावट आई। इंजीनियरिंग 663.28 अंक और रियलटी 553.10 अंक टूटा। धातु में 562.86 तथा बैंकेक्स में 438.57 अंक निकल गए। एशियाई शेयर बाजारों में हांगकांग, चीन और पाकिस्तान के शेयर तेजी से नीचे आए। बीएसई में बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि कुल 270ंपनियों के शेयरों में कामकाज हुआ और इसमें से 87.63 प्रतिशत अर्थात 2374 के शेयर नीचे आए। मात्र 303 अर्थात 11.18 कंपनियों के शेयर उपर और 32 में स्थिरता रही। सेंसेक्स की तीस कंपनियों में 27 घाटे और तीन फायदे में थीं। सेंसेक्स की नुकसान वाली कंपनियों में रिलायंस एनर्जी का शेयर सर्वाधिक 12.प्रतिशत अर्थात 18पये नुकसान से 1270 रुपये रह गया। दुपहिया वर्ग की दूसरी बड़ी बजाज ऑटो के शेयर में 188पये पर 11.23 प्रतिशत अर्थात 238.0 रुपये निकले। आईसीआईसीआई बैंक का शेयर शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन नुकसान में रहा। इसमें 8पये पर 7.04 प्रतिशत अर्थात 67.65 रुपये का घाटा हुआ। एलऐंडटी, हिंडाल्को, एनटीपीसी, एचडीएफसी, महिन्द्रा ऐंड महिन्द्रा, टाटा मोटर्स, रैनबैक्सी लैब, एचडीएफसी बैंक, विप्रो लिमिटेड, डीएलएफ, आेएनजीसी, टाटा स्टील, टीसीएस, इन्फोसिस टेकनोलोजीस, ग्रासिम इंडस्ट्रीज, सिप्ला लिमिटेड और भेल के शेयर में तीन प्रतिशत या इससे अधिक का नुकसान हुआ। फायदे वाली श्रेणी में रिलायंस कम्युनीकेशंस 2.प्रतिशत अर्थात पौने सोलह रुपये बढ़कर 543.35 रुपये पर बंद हुआ। हिन्दुस्तान यूनीलीवर लिमिटेड और भारती एयरटेल के शेयरों में हल्की बढ़त थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शेयर बाजार को लगा तगड़ा झटका