DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला बैंक कर्मियों की ब्रांच

पहले सेना में रहे ओम प्रकाश के लिए पंजाब नेशनल बैंक की विकासपुरी ब्रांच में गार्ड के रूप में काम करना किसी अनुभव से कम नहीं है। वहां पर जब कोई उनसे पूछता है कि क्या इधर सभी महिलाकर्मी है, तो उनका उत्तर होता है, मुझ को छोड़कर। निश्चित रूप से यह खास ब्रांच है क्योंकि पीएनबी की 2500 शाखाओं में सिर्फ इसमें ही सभी कर्मी महिलाएं हैं। इसके अलावा और कोई भी सभी महिलाकर्मियों वाली ब्रांच देश में नहीं है। हालांकि इससे पहले कुछ बैंकों ने इस तरह का प्रयास तो किया था, पर बात बहुत आगे तक नहीं बढ़ी। मैनेजर उषा कपूर इस ब्रांच से तब से जुड़ी है, जब इसकी तीन साल पहले शुरुआत हुई थी। बड़े फ से उषा जी बताती हैं कि पहले इधर के बहुत लोगों को यकीन नहीं होता था कि इधर सभी महिला कर्मी हैं। एक बार एकाउंट खुलवाने के बाद उन्हें जिस तरह की उम्दा सर्विस हम देते हैं, उसके बाद वही इंसान चार लोगों को और हमसे जोड़ता है। विकासपुरी ए ब्लाक में रहने वाले 73 साल के आरएस रहेजा ने कहा कि उनका पहले एक दूसरे बैंक की शाखा में खाता था। लेकिन उन्हें उधर मनमाफिक सर्विस नहीं मिली, जिसके चलते उन्होंने वहां से अपना एकाउंट बंद करवा कर इस ब्रांच में खुलवा लिया। इसी तरह की राय कुछ और भी खातेदारों ने जाहिर की। उषा कपूर कहती हैं कि पिछला एक साल हमारे लिए बहुत खास रहा है। हमारे डिपाजिट 100 करोड़ रुपये से अधिक हो गए हैं। हम लोन भी खूब देते हैं। हम कार, घर, रिटेल और हाउसिंग लोन देते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महिला बैंक कर्मियों की ब्रांच