अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीटीओ आफिस में छापा, कई गिरफ्तार

जिला परिवहन कार्यालय में नाजायज रूप से काम करने वाले दो युवकों और चार दलालों को पकड़कर लंबे समय से वहां व्याप्त भ्रष्टाचार का भंडाफोड़ किया गया । डीएम जितेन्द्र श्रीवास्तव के आदेश पर कार्यपालक दंडाधिकारियों के दल ने शुक्रवार को जिला परिवहन कार्यालय में छापेमारी की और दो नाजायज क्लर्को को घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी टीम ने चार दलालों को भी मौके पर धर-दबोचा। हालांकि, तीन नाजायज क्लर्क छापेमारी टीम को झांसा देकर फरार हो गए।ड्ढr ड्ढr जिलाधिकारी ने बताया कि सभी लोगों पर भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि डीटीओ से नाजायज क्लर्को को रखने तथा दलालों की सक्रियता पर जवाब -तलब किया गया है। डीटीओ को आदेश दिया गया है कि 24 घंटे के अंदर सभी नाजायज व्यक्ितयों को हटाकर सूचित करें। एसडीओ एन आर तिवारी ने बताया कि कार्यपालक दंडाधिकारी पहले आम आदमी बनकर डीटीओ कार्यालय गए और वहां के दो क्लर्को को ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए तीन सौ और चार सौ रुपए दिए। रुपए लेने वाले को छापेमार दल ने तुरंत दबोच लिया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: डीटीओ आफिस में छापा, कई गिरफ्तार