DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

त्रिपुरा में वाममोर्चे को स्पष्ट बहुमत

त्रिपुरा में सत्तारूढ़ वाममोर्चा ने 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए अब तक घोषित 53 सीटों के परिणामों में से 4सीटें जीत कर दो तिहाई बहुमत हासिल कर लिया है। माकपा को 46 सीटें मिली है। उसकी सहयोगी आरएसपी को दो और भाकपा को एक सीट मिली है। उधर मेघालय विधानसभा की 60 में से 5सीटों पर तीन मार्च को हुए चुनाव में सत्तारूढ़ दल कांग्रेस 25 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है, लेकिन प्रदेश में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बन गई है। त्रिपुरा में पिछली विधानसभा में वाम मोर्चा के सहयोगी रहे फारवर्ड ब्लॉक ने सीटों के बंटवारे को लेकर माकपा के साथ मतभेदों के चलते चुनाव नहीं लड़ा।ड्ढr ड्ढr विपक्षी दल कांग्रेस कोआठ सीटें और उसकी सहयोगी आईएनपीटी को एक सीट मिली है। शेष सात सीटों के रूझान के अनुसार चार विधानसभा सीटों पर वाममोर्चा आगे है और तीन पर कांग्रेस बढ़त बनाए हुए है। मुख्यमंत्री मानिक सरकार ने धानपुर विधानसभा सीट पर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को 200 मतों से हराया। उधर, मेघालय की निवर्तमान विधानसभा में गठबंधन सरकार का नेतृत्व करने वाली कांग्रेस के इस बार निर्दलियों तथा हिल स्टेट पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (एचएसपीडीपी) तथा खुन हेनिनत्रिप नेशनल अवेकनिंग मूवमेंट (केएचएनएएम) जैसे छोटे दलों के साथ मिलकर सरकार बनाने की संभावना है। पूर्व लोकसभा अध्यक्ष पीए संगमा के नेतृत्व में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को 14 सीटें मिली है, जबकि यूनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) को 11, एचएसपीडीपी को दो तथा केएचएनएएम और भाजपा को एक-एक सीट मिली है।ड्ढr ड्ढr निर्दलियों ने पांच सीटों पर कब्जा जमाया है। कांग्रेस उम्मीदवार सेंगरान एम संगमा के निधन के चलते बाघमारा सीट पर चुनाव 22 मार्च को होना है। विश्लेषकों का कहना है कि केंद्र में सप्रंग सरकार की घटक राकांपा के राज्य में कांग्रेस के नेतृत्व में बनने वाली सरकार में शामिल होने की संभावना नजर नहीं आ रही है। मुख्यमंत्री डीडी लपांग नोंगपो सीट बचाने में कामयाब रहे हैं जबकि उप मुख्यमंत्री तथा यूडीपी उम्मीदवार दोनकुपार राय ने शेला सीट जीत ली है। दूसरे उपमुख्यमंत्री तथा कांग्रेसी उम्मीदवार मुकुल संगमा अमपातगिरी सीट पर पुन: कब्जा जमाने में कामयाब रहे हैं। मुकुल संगमा के भाई तथा लोक निर्माण मंत्री जेनिथ संगमा को रंगसकोना सीट पर राकंपा के एडोल्फ ल्यू हिटलर आर मराक ने हरा दिया है। स्वास्थ्य मंत्री देबोरा सी एम जराक (कांग्रेस) रोंगरेनगिरी में राकांपा के मा*++++++++++++++++++++++++++++र्*ज एन मराक के हाथों शिकस्त खा बैठे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री तथा यूडीपी उम्मीदवार ई के मावलांग ने कांग्रेस से उमरोई सीट छीन ली है। एक अन्य पूर्व मुख्यमंत्री फिलेंडर एड्रसन खोंगलाम (एचएसपीडीपी) सोहरा सीट डब्ल्यू खोंगजी के हाथों गंवा चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: त्रिपुरा में वाममोर्चे को स्पष्ट बहुमत