अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटर व मैट्रिक का रिजल्ट 31 मई तक

इस वर्ष इंटर व मैट्रिक परीक्षा का परीक्षाफल 31 मई तक प्रकाशित कर दिया जाएगा। इसको लेकर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने योजना तैयार कर ली है। इंटर परीक्षा के सफलतापूर्वक संपन्न कराने के बाद समिति का पूरा ध्यान अब मैट्रिक परीक्षा में लग गया है और इसको देखते हुए अभी इंटर परीक्षा की कापियों को लॉकर रूम में ही रहना होगा। मैट्रिक परीक्षा के बाद ही दोनों की कॉपियों का मूल्यांकन एक साथ कराया जाएगा। वहीं इंटर परीक्षा के अंतिम दिन लगभग 45 परीक्षार्थियों को चोरी करते पकड़ा गया और उन्हें परीक्षा से निष्कासित कर दिया गया।ड्ढr ड्ढr बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के सचिव अनुप कुमार सिन्हा ने बताया कि आज हल्का विषय रहने के बाद भी परीक्षा में 45 परीक्षार्थियों को पकड़े जाने से पता चलता है कि सूबे में कहीं पर भी ढील नहीं दी गयी। उन्होंने कहा कि परीक्षार्थियों को कदाचारमुक्त परीक्षा का पूरा लाभ मिलेगा। कॉपियों के मूल्यांकन के समय उन्हें ढील दी जाएगी ताकि परीक्षाफल बेहतर हो सके। श्री सिन्हा ने कहा कि अभी होली फिर मैट्रिक परीक्षा और अन्य परीक्षाआें के कारण मूल्यांकन के लिए स्थल मिलना मुश्किल होगा। जिला में केंद्रीकृत रूप से मूल्यांकन केंद्र बनाया जाएगा। समिति सूत्रों की मानें तो अप्रैल के प्रथम सप्ताह में कॉपियों के मूल्यांकन का कार्य शुरू होगा। पहली बार इंटर व मैट्रिक दोनों की कॉपियों को एक ही समय में जांचा जाएगा। मूल्यांकन केंद्र के गठन के लिए कार्यक्रम शीघ्र शुरू किया जाएगा। सचिव ने कहा कि मैट्रिक व इंटर के परीक्षाफल हर हाल में 31 मई तक प्रकाशित कर दिए जाएंगे।ड्ढr ड्ढr मदरसा बोर्ड की परीक्षा अब 10 से होगीड्ढr पटना (हि.प्र.)। शनिवार से शुरू होने वाली बिहार मदरसा बोर्ड के फौकानिया (मैट्रिक) की परीक्षा दो दिनों के लिए टाल दी गई है। अब यह परीक्षा 10 मार्च से राजधानी समेत सूबे के कुल 165 केन्द्रों पर शुरू होगी। 8 मार्च को घोषित दिनयात की दोनों विषयों की परीक्षा अब 17 मार्च को ली जाएगी। फौकानिया के शेष विषयों की परीक्षा पूर्ववत ही ली जाएंगी।बोर्ड के अध्यक्ष हाजी सलाहउद्दीन सिद्दीकी तथा परीक्षा नियंत्रक मो. मुस्तफा ने बताया कि 10 मार्च से शुरू होने वाली परीक्षा में 62 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे जिसमें 36 हजार छात्रा भी परीक्षा में भाग लेंगी। यही नहीं इस परीक्षा में लगभग दो दर्जन परीक्षार्थी गैर-मुस्लिम भी हैं। पहले चरण की परीक्षा के लिए बोर्ड ने संबंधित केन्द्रों पर प्रश्नपत्र, उत्तर पुस्तिका सहित तमाम परीक्षा सामग्री उपलब्ध करा दिए हैं। राजधानी में पहले चरण की परीक्षा के लिए तीन परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं जिसमें मदरसा इस्लामिया शम्सुल होदा में 188 छात्र, मदरसा इस्लामिया, समनपुरा में 245 तथा मदरसा सुलेमानिया में 203 छात्र परीक्षा में शामिल होंगे। बोर्ड के पदाधिकारियों ने बताया कि दूसरे चरण की परीक्षा यानी मौलवी (इंटर), आलिम (बी.ए), आलिम आनर्स (बी.ए. आनर्स) तथा फाजिल (एम.ए.) की परीक्षा 21 अप्रैल से 30 मई तथा तीसरे चरण में वस्तानिया (आठवां बोर्ड) की परीक्षा 17 मई से 21 मई के बीच पूरे सूबे में आयोजित की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: इंटर व मैट्रिक का रिजल्ट 31 मई तक