अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संक्षिप्त खबरें

मुंबई की घटना के लिए गृहमंत्री जिम्मेवार : डॉ मुरली मनोहर जोशीड्ढr चाईबासा (हसं.)। सांसद डॉ मुरली मनोहर जोशी ने मुंबई की घटना के लिये केंद्रीय गृह मंत्री को पूरी तरह से जिम्मेवार ठहराया है। उन्होंने शिव सेना प्रमुख बाल ठाकरे एवं महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे द्वारा उत्तर भारतीयों के खिलाफ दिये गये बयान एवं इससे हो रही घटनाआें की तीखी आलोचना भी की। श्री जोशी शुक्रवार को परिसदन में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने इस घटना को देश व्यापी मामला करार दिया और कहा कि मुंबई में जो हो रहा है, बहुत ही गलत है। उन्होंने कहा कि शिव सेना एवं मनसे प्रमुख के बयानों से मुंबई में देश का संविधान टूट रहा है। इसके लिये देश के गृहमंत्री पूरी तरह से जिम्मेवार हैं। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुये कहा कि यह सब कांग्रेस की चाल है। डॉ जोशी ने मुंबई में उत्तर भारतीयों के साथ हो रहे मारपीट के मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुये कहा वोट बैंक की राजनीति के तहत ही वहां विद्वेष फैला जा रहा है। उत्तर भारतीयों के खिलाफ आये दिन दिये जा रहे बयान से मुंबई में मानवता तार-तार हुआ है। उन्होंने मुंबई की घटना पर अफसोस जताते हुये कहा कि जिस अंबेडकर ने देश का संविधान तैयार किया है, आज उसी के राज्य में इस संविधान को तोड़ने का काम किया जाड्ढr रहा है। कोयले का अवैध धंधा करनेवाले दो गुटों में मारपीटड्ढr आेरमांझी (निप्र)। आेरमांझी में अवैध कोयले का धंधा करनेवाले दो गुटों में जमकर मारपीट हुई। मारपीट के एक आरोपी को आेरमांझी पुलिस ने गिरफ्तार कर रात भर थाना हाजत में रखा और अगली सुबह दोनों पक्षों में समझौता कराया। जानकारी के अनुसार एक गुट द्वारा हलवादी गांव से पिछले एक माह से अवैध कोयला लाया जा रहा था। यह गुट प्रत्येक रात को तीन-चार ट्रक अवैध कोयला आेरमांझी एवं इसके आसपास के ईंट भट्ठे में गिराता था। जब इस बात की जानकारी इसी धंधे में लिप्त छोटे खान को मिली तो वह 5 मार्च की रात ट्रक लेकर हलवादी गांव की आेर निकल गया। उसके आने की खबर पाकर दूसरे गुट के लोग अपने सहयोगियों के साथ एनएच-33 के सुजी होटल के समीप पहुंचे, जहां पहले से ही दूसरा पक्ष के लोग जुटे थे। दोनों गुटों में पहले तो जमकर बहस हुई, बाद में यह मारपीट में बदल गया। मारपीट की जानकारी जब आेरमांझी पुलिस को हुई तो एक पक्ष से लिखित शिकायत पत्र लेकर दूसरे पक्ष के एक व्यक्ित को गिरफ्तार कर रात भर थाना हाजत में बंद कर रखा।ड्ढr बुढ़मू में ग्रामीणों ने पथ निर्माण कार्य रोकाड्ढr बुढ़मू। प्रखड के उमेडंडा सरदार मोड़ के मदिन टोली गेसवे तक बनने वाले पथ का निर्माण कार्य ग्रामीणों ने बंद करा दिया। जानकारी के अनुसार 1.65 करोड़ की लागत से बन रहे उक्त सड़क का निर्माण कार्य मेसर्स पंकज सिंह द्वारा कराया जा रहा है। सात मार्च को ग्रामीणों व सर्वदलीय नेताओं के एक दल ने जाकर निर्माण कार्य की जांच की तो वहां भारी गड़बड़ी पाया।ड्ढr ग्रामीणों ने आठ मार्च को ठेकेदार को प्राक्कलन के साथ कार्यस्थल पर आने के बाद ही कार्य शुरू करने देने की बात कही है। दूसरी ओर विभाग के कनीय अभियंता राजेश मंडल ने कहा कि कार्य काफी दिनों से बंद था और सात मार्च को उन्होंने कार्यस्थल पर जाकर काम शुरू कराया था। उनके वहां से लौटने के बाद ही अलकतरा वगैरह निर्माण सामग्री में अगर कमी की गयी है तो इसकी विभागीय जांच होगी।ड्ढr ग्रामीणों का नेतृत्व झाविमो के रामजीत गंझू, भाजपा के अशोक महतो, मनोज मिश्रा, राट्रवादी कांग्रेस पार्टी के गुरुवेंद्र साहू कर रहे थे।ड्ढr ट्रक-बस में टक्कर महिला की मौतड्ढr आेरमांझी (निप्र)। एनएच-33 पर उकरीद स्थित बीपी पेट्रोल पंप के समीप शुक्रवार की सुबह ट्रक और सिटी राइड बस की टक्कर में एक महिला की मौत हो गयी। जबकि आधा दर्जन लोग घायल हो गये। मृत महिला का नाम शांति तिर्की है और वह केदला हजारीबाग में स्टाफ नर्स का काम करती थी। घायलों में हजारीबाग के प्रवीण कुमार, पिस्का आेरमांझी के रमेश बेदिया व बलराम मुंडा शामिल हैं। इनका इलाज रिम्स में चल रहा है। वहीं ट्रक के चालक नीरज सिंह को गिरफ्तार कर दोनों वाहनों को पुलिस ने जब्त कर लिया है। जानकारी के अनुसार ट्रक (बीआर-14जी1625) रामगढ़ से लोहा लेकर रांची आ रहा था। चालक ने ट्रक को किसी काम से बीपी पेट्रोल पंप के समीप खड़ा कर रखा था। इस बीच रामगढ़ से रांची आ रही सिटी बस (जेएच13 एच-144ने ट्रक को पीछे से धक्का मार दिया। इससे बस में बैठी महिला शांति तिर्की घायल हो गयी। स्थानीय लोगों ने तत्काल घायलों को इलाज के लिए आेरमांझी राजकीय अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के क्रम में शांति तिर्की की मौत हो गयी।ड्ढr अज्ञात शव की शिनाख्त हुईड्ढr रातू (निप्र)। नवांसोसो गांव में पिछले 20 फरवरी को हत्या कर तालाब के किनारे फेंका गया अज्ञात व्यक्ित के शव की शिनाख्त 7 मार्च को महावीर गोप (42) के रूप में कर ली गयी है। मृतक गुमला के भरनो थानांतर्गत करौंदाजार गांव का रहनेवाला था। पुलिस ने हत्याकांड में शामिल एक अभियुक्त अशोक उरांव उर्फ सखवा को पंडरा नयाटोली से गिरफ्तार कर लिया है। वह भी मृतक के गांव का ही रहनेवाला है। दोनों एक ही किराये के मकान में रह रहे थे। जानकारी के अनुसार मृतक मोटसाइकिल का मिस्त्री था। भरनो में उसका दुकान था। करीब 6 माह पहले परिवारवालों से किसी बात को लेकर उसका झगड़ा हो गया था। उसके बाद वह रांची आ गया और रिक्शा चलाने लगा। इस बीच उसकी मुलाकात अशोक उरांव से हुई। वह पंडरा नयाटोली में बुढ़मूके एक रिक्शा चालक दोस्त रामेश्वर बैठा के साथ किराये पर रहता है। महावीर भी उनके साथ रहने लगा। उसने काफी पैसे जमा कर रखे थे। हत्या के दिन तीनों काम पर नहीं गये। इस बीच अशोक और रामेश्वर ने उसे जमकर शराब पिलायी। दोनों ने रुपये की लालच में उसकी हत्या कर शव को रिक्शा में लाद कर रात को नयासोसो गांव स्थित तालाब के किनारे फेंक दिया था। इस बाबत गांव के ग्राम प्रधान के बयान पर रातू थाना में मामला दर्ज किया गया था। बाद में शव को लावरिस घोषित कर रिम्स प्रबंधन ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया। मृतक की पहचान उसके भाई रूपनाथ गोप व पुत्र परवीन गोप ने थाना में उपलब्ध फोटाग्राफी से की। इधर, घटना के बाद से रामेश्वर बैठा फरार है। गिरफ्तार अशोक उरांव ने हत्या की बात स्वीकार ली है।ड्ढr बौराई वैन ने बरपाया कहर निरसा में पांच की मौतड्ढr धनबाद (का.सं)। निरसा हाथबारी में शुक्रवार की सुबह देखते ही देखते पांच लोगों की मौत हो गयी और कई गंभीर रुप से घायल हो गये। सभी घायलों को उपचार के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। जीटी रोड के किनारे गे में गिरे कंटेनर को उत्सुकतावश देखने के लिए घर से निकल कर लोग जीटी रोड पर खड़े थे। तभी चिरकुंडा की तरफ से तेज गति से आ रही एक मारूति वैन भीड़ में जा घुसी। अभी लोग कुछ समझते कि वैन भीड़ को रौदते हुए आगे निकल गयी। अफरा-तफरी मच गयी। चीख और चित्कार से पूरा इलाका दहल उठा। वैन में बैठे पांच-छह लोग मौके की नजाकत को देख वहां से गाड़ी छोड़ फरार हो गये। चार लोगों की मौत तो घटना स्थल पर ही हो गई। एक ने अस्पताल में दम तोड़ा।ड्ढr वैन निरसा पुलिस के कब्जे में है। अब तक किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है। घायलों की स्थिति भी गंभीर बनी हुई है। मरने वालों के नाम रामेश्वर नोनियां, शर्मा राउत, समरेंद्र कुमार मंडल, बाबूजान हांसदा एवं विजय यादव है। सभी निरसा एवं आसपास के क्षेत्र के हैं।गंभीर रुप से घायल लोगों में करण टुड्डू, वासुदेव राम, सुरेशचंद्र यादव एवं हीरालाल मरांडी हैं। कुछ और लोग मामूली रुप से जख्मी हुए, जिनका उपचार स्थानीय अस्पतालों में किया जा रहा है। कुछ को प्राथमिक उपचार के बाद ही छोड़ दिया गया। सभी मृतकों का अंत्यपरीक्षण पीएमसीएच में ही किया गया। काफी संख्या में मृतक के परिजन भी अस्पताल पहुंचे थे। क्रंदन एवं चित्कार से अस्पताल परिसर दहल उठा।ड्ढr वितरण व्यवस्था की खराबी है बिजली संकट का कारण : अध्यक्षड्ढr धनबाद (सं)। झारखंड राज्य विद्युत बोर्ड के अध्यक्ष बृजमोहन वर्मा ने दावा किया है कि आनेवाली गर्मी में धनबाद समेत पूरे झारखंड में बिजली की कमी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि राज्य में बिजली संकट का कारण बिजली की कमी नहीं, ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम की खराबी है। गर्मी से पहले ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम को ठीक कर दिया जायेगा।श्री वर्मा ने शुक्रवार को धनबाद परिषदन में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि फिलहाल राज्य में बिजली की कमी नहीं है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संक्षिप्त खबरें