अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिलने लगे एड नौजवान क्रिकेटरों को भी

मलेशिया में अंडर-1विश्व कप क्रिकेट का खिताब जीत कर लौटी भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और स्पिनर इकबाल अब्दुल्ला पर अब विज्ञापन एजेंसियों की निगाहें हैं। भारत की खिताबी विजय में इन दोनों ने बेहतरीन खेल प्रदर्शन किया। पर इसी के चलते ही विज्ञापन एजेंसियां इन्हें अपने विज्ञापनों में लेना नहीं चाहती। ये पसंद आ रहे हैं क्योंकि इन्हें अखिल भारतीय पहचान मिल गई है। एड एक्सपर्ट कहते हैं कि विराट उसी तरह से जुझारू क्रिकेटर हैं जैसे कि महेन्द्र सिंह धोनी हैं। मात्र 1साल का होने के बाद भी वे मीडिया से बेहतर तरीके से संवाद कर लेते हैं और वे हैंडसम तो है ही। उधर, इकबाल अब्दुल्ला को मुख्य रूप से एड एजेसिंयां इसलिए पसंद कर रही है क्योंकि वे संघर्ष से सफलता के प्रतीक बन चुके हैं। मूलत: उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले का यह नौजवान चार साल पहले मायानगरी मुम्बई में खेलने के लिए गया था। इतने कम अंतराल में बेहतरीन उपलब्धियों के बल पर उसने पहले मुंबई की टीम में और अब भारतीय-1टीम में शानदार प्रदर्शन करके सबका ध्यान अपनी तरफ खींचा। ग्राफिक्स एड एजेंसी के निदेशक आलोक गुप्ता ने बताया कि आने वाले समय में इन दोनों को कई विज्ञापन मिलने वाले हैं। कई कंपनियों ने इनसे सम्पर्क साधना भी चालू कर दिया है। खबर है कि कोक का एक विज्ञापन बन रहा है, जिसमें भारतीय क्रिकेट टीम के बहुत से खिलाड़ी एक साथ दिखेंगे। उसमें विराट कोहली और अब्दुल्ला को भी देखा जा सकता है। हालांकि कोक के विज्ञापन देखने वाले प्रख्यात एड गुरु प्रसून जोशी ने इस बारे में कुछ भी बताने से इंकार कर दिया। उन्होंने इतना ही कहा कि वे आगामी गर्मी के सीजन के लिए कोक का एक एड बनाने में व्यस्त हैं और हो सकता है कि इन्हें भी आप उस एड में देखें। एड एक्सपर्ट यह भी कह रहे हैं कि विराट, अब्दुल्ला या अंडर 1टीम के किसी अन्य सितारे को किसी विज्ञापन में मौका उसी हालत में मिलेगा जब विज्ञापन में कई और भी खिलाड़ी होंगे। सिर्फ उनके साथ ही कोई कंपनी एड बनाने का फिलहाल साहस न करे। कारण यह है कि ये अभी बिल्कुल नए हैं और सिर्फ क्रिकेट के गम्भीर फैन ही इन्हें जानते-पहचानते हैं। जाहिर है कि एक एड करने पर इन्हें पांच लाख रुपये तक तो आराम से मिल ही जाएगा। उधर, सैम्पल एड एजेंसी के प्रमुख देवेश शर्मा कहते हैं कि छोटी-मोटी उपलब्धि के बाद ही क्रिकेटरों को विज्ञापन मिलने लगते हैं। ये दोनों तो वर्ल्ड कप विजेता टीम के महत्वपूर्ण सदस्य थे, इसलिए इन्हें एड मिलने पर हैरत नहीं होनी चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मिलने लगे एड नौजवान क्रिकेटरों को भी