DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

32 हेडमास्टर, एक जेइ का वेतन बंद, शो कॉज

स्कूलों में किचेन शेड सह स्टोर रूम के निर्माण में लापरवाही बरतना हेडमास्टर और जूनियर इंजीनियर को महंगा पड़ गया। जिला शिक्षा अधीक्षक प्रदीप कुमार चौबे ने 32 हेडमास्टर का वेतन बंद कर शो कॉज जारी करने का निर्देश प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों को दिया है। साथ ही चेक नहीं दिये जाने के कारण एक जेइ का भी वेतन स्थगित करते हुए कारण पूछा है। साथ ही शो कॉज भी पूछा है। इसके अलवा 17 स्कूलों से किचेन बनाने के लिए दी गयी राशि वापस ले ली गयी है।ड्ढr प्रावि दुलमी बोंगादाग, उत्क्रमित मवि चोकाहातू, प्रावि पकरिया, प्रावि सिरका, प्रावि चंदा पारा, उत्क्रमित मवि चापी, उत्क्रमित मवि विकवादाग, मवि धुनसुली, प्रावि जलटंडा कन्या, प्रावि बरजो, प्रावि लोवा, मवि सिमलिया, मवि हेठकोटी, उत्क्रमित मवि पतरातू, प्रावि जोजोटोली, प्रावि भूत, प्रावि जमुवादाग, मवि मोहनपुर उर्दू, मवि मांझीटोला, मवि गोसाइडीह, मवि चिटूडीह, मवि गड़गांवमवि हेसापीडी, मवि रागए, मवि बरकोलमा, मवि कसेराडीह, प्रावि कामता उर्दू, प्रावि मुरचू, उत्क्रमित प्रावि रातू मुख्यालय, मवि रातू राज, मवि पंडरा, मवि चतरा अनगड़ा के हेडमास्टर का वेतन बंद किया गया है।ड्ढr प्रावि खखूरा को किचेन निर्माण का चेक जेइ द्वारा नहीं दिये जाने के कारण जेइ का वेतन स्थगित किया गया है। इसके अलावा भूमि नहीं रहने, नरेगा द्वारा पूर्व में ही किचेन का काम शुरू करा दिये जाने के कारण राशि वापस ली गयी है।शिक्षक नियुक्ित: फार्म की तिथि बढ़ाने की मांगड्ढr रांची। प्रशिक्षित बीएड छात्र संघ ने माध्यमिक शिक्षक नियुक्ित के लिए चल रही प्रक्रिया की तिथि आगे बढ़ाने के साथ नियमावली में संशोधन की मांग की है। इसे लेकर संघ की एक बैठक आठ मार्च को रांची में हुई। नौ को फिर जिला स्कूल परिसर में बैठक बुलायी गयी है। छात्रों का कहना है कि प्राथमिक शिक्षक नियुक्ित में 45 वही माध्यमिक के लिए 35 वर्ष उम्र किया जाना तर्कसंगत नहीं है। बीएड नामांकन के समय स्नातक स्तर पर 45 प्रतिशत अंक निर्धारित किया गया है, वही माध्यमिक शिक्षक नियुक्ित में 50 प्रतिशत विषयवार निर्धारित किया गया।ड्ढr इंटरमीडिएट परीक्षा से पांच निष्कासितड्ढr रांची। मैट्रिक-इंटरमीडिएट परीक्षा आठ मार्च को शांतिपूर्ण रही। रांची में इंटरमीडिएट परीक्षा में कदाचार के आरोप में विभिन्न केंद्रों से पांच परीक्षार्थी निष्कासित किये गये। प्रथम पाली में हुई मैट्रिक की परीक्षा शांतिपूर्ण रही। इंटरमीडिएट परीक्षा से 184 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। रांची कॉलेज केंद्र से एक, मारवाड़ी कॉलेज से दो, संत पॉल कॉलेज से एक एवं गोस्सनर कॉलेज से एक परीक्षार्थी कदाचार करते पकड़े गये। अन्य सभी केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्ण रही। झारखंड एकेडमिक कौंसिल के अनुसार राज्य के सभी केंद्र पर परीक्षा शांतिपूर्ण रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 32 हेडमास्टर, एक जेइ का वेतन बंद, शो कॉज