अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्त्री-पुरुष के बीच साक्षरता दर का जेंडर गैपडॉ मंजू सिन्हा

आइये देखें कि हमारे झारखंड राज्य में साक्षरता दर की वह विषमता कितनी बड़ी खाई की ओर इंगित करती है। बॉक्स के आंकड़े दर्शाते हैं कि यह जेंडर गैप चाहे जो भी रहा हो 2001 तक कुछ राज्यों में यह विषमता तेजी से घटी जबकि कुछ राज्यों में ढुलमुल नीति के चलते यह गैप धीरे-धीरे ही पाटा जा रहा है। उत्तरांचल में यह गैप दस वर्षो में सात प्रतिशत तक कम हुआ। छत्तीसगढ़, हरियाणा और मणिपुर में यह गैप छह प्रतिशत तक घटा। हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र और त्रिपुरा में यह विषमता पांच प्रतिशत तक कम हुई, तो गोवा, कर्नाटक, सिक्िकम, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में यह गैप चारड्ढr प्रतिशत घटा। 1में स्त्री-पुरुष साक्षरता दर का सबसे कम जेंडर गैप जिन दो राज्यों में पाया गया वे राज्य थे केरल और मिजोरम सात प्रतिशत के गैप के साथ। मेघालय में भी मात्र आठ प्रतिशत का गैप पाया गया। सर्वाधिक गैप वाला प्रदेश था राजस्थान जहां यह गैप 35 प्रतिशत था। यह विषमता इस बात की द्योतक है कि राजस्थान में स्त्री-पुरुष के अधिकारों और प्राप्य देय सुविधाओं के बीच बहुत गहरी खाई है। (जारी)स्त्री-पुरुष के बीच साक्षरता दर का जेंडर गैप (प्रतिशत में)ड्ढr राज्य 1ा 2001 काड्ढr सेंसससेंससड्ढr आंध्र प्रदेश2220ड्ढr असम116ड्ढr बिहार227ड्ढr छत्तीसगढ़3125ड्ढr गोवा1713ड्ढr गुजरात2422ड्ढr हरियाणा223ड्ढr हिमाचल प्रदेश2318ड्ढr जम्मू-कश्मीर2524ड्ढr झारखंड302र्नाटक231ेरल0706ड्ढr मध्य प्रदेश227ड्ढr महाराष्ट्र241मणिपुर2418ड्ढr मेघालय0806ड्ढr मिजोरम0705ड्ढr नागालैंड1310ड्ढr उड़ीसा2825ड्ढr पंजाब1512ड्ढr राजस्थान3532ड्ढr सिक्िकम115ड्ढr तमिलनाडु2218ड्ढr त्रिपुरा2116ड्ढr उत्तर प्रदेश3027ड्ढr उत्तरांचल3124ड्ढr पश्चिम बंगाल2117ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्त्री-पुरुष के बीच साक्षरता दर का जेंडर गैपडॉ मंजू सिन्हा