अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में आग का कहर शुरू, एक की मौत

गर्मी की दस्तक के साथ ही राजधानी और उसके आसपास के इलाकों में अग्नि का तांडव शुरू हो गया है। बीते 24 घंटे के दौरान अगलगी की तीन अलग-अलग घटनाओं में एक व्यक्ित की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गये। साथ ही लाखों की संपत्ति जल कर राख हो गई। दिल दहलाने वाली घटना बेली रोड से सटे रूपसपुर इलाके में शुक्रवार की देर रात हुई जहां गहरी नींद में सो रहा कटिहार निवासी मजदूर मो. अयूब (60) झुलस कर मर गया। दो अन्य घायलों मो. इस्लाम (28) और बबलू (22) को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।ड्ढr ड्ढr दरअसल रूपसपुर नहर के समीप तांतिया कंपनी के निर्माण कार्य में लगे मजदूर अस्थायी झोपड़ियां बना कर वहीं रहते हैं। बीती रात सभी मजदूर खाना खाने के बाद झोपड़ियों में सो रहे थे। अचानक एक झोपड़ी में आग लगी और देखते ही देखते उसने विकराल रूप धारण कर लिया। चार झोपड़ियां जल कर राख हो गई। झोपड़ियों में मौजूद मजूदर जान बचाने के लिए चिल्लाते हुए बेतहाशा भागे। हालांकि तब तक अयूब समेत तीन आग में फंस गये।ड्ढr ड्ढr बाद में दमकल दस्ते व स्थानीय लोगों के संयुक्त प्रयास से आग पर काबू पाया गया। इधर शनिवार को दिन में शहर के राजीवनगर इलाके में रोड नंबर 23 स्थित झोपड़पट्टी में आग लगने से अफरातफरी मच गई। आग लगने के कारणों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। अगलगी में चार झोपड़ियां प्रभावित हुई जिसमें रखी हजारों की संपत्ति स्वाहा हो गई। इस घटना की जानकारी होने से पटना फॉयर स्टेशन से इनकार किया है। दूसरी तरफ मैनपुरा इलाके में उमेश भारती के घर में आग लगने से हजारों की संपत्ति स्वाहा हो गई। सूचना मिलते ही एक यूनिट दमकल दस्ते ने मौके पर पहुंच कर आग पर काबू पा लिया। फॉयर ऑफिसर गोबर्धन राम के मुताबिक गैस सिलेंडर लीक होने से आग लगी थी। आग से एक कमरा ही प्रभावित हुआ जिससे उसमें रखे सभी सामान बर्बाद हो गये।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शहर में आग का कहर शुरू, एक की मौत