DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाजीपुर में सामने आई बिहारियों की मानवता

हाजीपुर-मुजफ्फरपुर उच्च मार्ग पर शनिवार की देर रात एक टूरिस्ट कोच के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से महाराष्ट्र के नासिक और पुणे के 16 यात्री घायल हो गए। स्थानीय लोगों ने घायलों को सदर अस्पताल पहुंचाया। प्रारंभ में घायलों ने अपना नाम और पता बताने से एक अंजाने भय के कारण परहेज किया लेकिन के सेवा भाव से बिहार की ऊंचाई का उन्हें पता चला।ड्ढr ड्ढr महाराष्ट्र में जहां बिहारियों के खिलाफ मनसे और अन्य संगठनों के लोग विषवमन कर रहे हैं। वहीं स्थानीय लोगों ने उनकी सेवा कर यह साबित कर दिया कि देश के किसी भी कोने का नागरिक अपना है। यह दुर्घटना गोरौल थाने के बेलसर गांव के पास कोच के एक पेड़ से टकरा जाने के कारण हुई। थाने के अवर निरीक्षक एस के सिंह ने बताया कि कोच मुजफ्फरपुर से पटना जा रही थी। घटना का कारण विपरीत दिशा से आ रहे किसी वाहन के प्रकाश के कारण कोच चालक का नियंत्रण खो बैठना बताया गया है। दुर्घटना में केदार चंद्र, उर्मिला, लता, सुधा, निरमा, सुनंदा, लीलावती, नायडू, प्रमिला, विमल, लीलावती, स्वर्णा, एम्बाडर, सरज दास, काकुटेल और पांडुरनी गंभीर रुप से घायल हुए।ड्ढr एक घायल ने र्अबेहोशी में कहा कि बिहारियों में महावीर व गौतम बु, गांधी का प्रेम और अहिंसा कूट-कूट कर भरा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हाजीपुर में सामने आई बिहारियों की मानवता