DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोयला जगत की खबरें

बेहतर वेतन समझौते के पक्ष में है इंटक रांची । इंडियन नेशनल माइंस वर्कर्स फेडरेशन (इंटक) कोयला कामगारों के बेहतर वेतन समझौते के पक्ष में है। नागपुर में सात से नौ मार्च तक हुए महाधिवेशन में यह बात उभर कर सामने आयी। राष्ट्रीय कोलियरी मजदूर संघ के सीसीएल सचिव जर्नादन सिंह ने बताया कि इसमें समझौते की अवधि के बारे में भी चर्चा हुई। महाधिवेशन में आये प्रतिनिधियों में कई 10 साल के वेतन समझौते के पक्ष में थे। कहा गया जेबीसीसीआइ सदस्य अलग से आपस में चर्चा कर इस मुद्दे पर निर्णय लेंगे। सनद रहे कि चंद्रशेखर दुबे ने बनारस में हुई जेबीसीसीआइ की बैठक में 10 साल का वेतन समझौता करने की बात कही थी।ड्ढr जेसीएमयू की सभा 12 को डब्ल्यूसीएल मेंड्ढr रांची। द झारखंड कोलियरी मजदूर यूनियन की आम सभा 12 मार्च को नागपुर स्थित डब्ल्यूसीएल मुख्यालय के समक्ष होगी। इसमें भाग लेने के लिए महासचिव सनत मुखर्जी के नेतृत्व में सदस्य सोमवार को रवाना हो गये। इसमें चंद्रपुर, मजरी, बलारपुर सब एरिया, कामती, दीपला और पटन स्वांगी आदि क्षेत्रों से कामगार हिस्सा लेंगे। न्यूनतम बेसिक 27 हजार, 10 साल का वेतन समझौता, अधिकारियों की तरह सुविधाएं देने की मांग के लिए यूनियन आंदोलन कर रहा है। एसइसीएल में आम सभा 15 मार्च को होगी।ड्ढr प्रोन्नति का साक्षात्कार शुरूड्ढr रांची। कोल इंडिया में एम-1 के अधिकारियों को एम-2 में प्रोन्नति देने के लिए 10 मार्च से कोलकाता में साक्षात्कार शुरू हुआ। साक्षात्कार मंगलवार को भी होगा। इसमें विक्रय, विपणन, कार्मिक और वित्त संवर्ग के अधिकारियों को बुलाया गया है।रांची (सं) । कोल इंडिया के लगभग 16 हजार अधिकारियों को डीए मर्जर का एरियर मिलेगा। राशि औसतन 60 से 0 हजार के बीच होगी। मर्जर संबंधी आदेश जनवरी 2007 से लागू होना है। हालांकि इससे पहले पारित प्रस्ताव को स्वीकृति लेनी होगी। सेवानिवृत्त होनेवाले अधिकारियों को बेहतर चिकित्सा सुविधा भी अब मिल पायेगी। अब वह बाहर के अस्पतालों में भी इलाज करा सकेंगे। आउटडोर ट्रीटमेंट कराने पर साल भर में करीब 15 हजार रुपया प्रबंधन उन्हें देगा। गंभीर बीमारी में इलाज कराने पर पांच लाख तक का भुगतान करेगा। कैंसर, किडनी खराब होने जैसी बीमारी में शत प्रतिशत खर्च का वहन करेगा। इसके लिए पहले उन्हें 40 हजार रुपया एक बार जमा करना होगा। पूर्व में सेवानिवृत्त हुए अधिकारी भी इसका लाभ उठा सकते हैं। वर्ष 2007-08 में कर्मियों को लगनेवाले परक्यूजिट टैक्स का भुगतान भी कोल इंडिया करेगा। सीएमआेएआइ के केपी सिंह, एके भगत, उमेश चंद्रा, एसके जायसवाल ने प्रबंधन को बधाई दी है।ड्ढr आइआइसीएम में हिंदी कार्यशाला आयोजितड्ढr रांची। आइआइसीएम में कोल इंडिया के अधिकारियों के लिए राजभाषा की उपयोगिता विषयक तीन दिनी कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसका शुभारंभ दूरदर्शन केंद्र के निदेशक डॉ शैलेश पंडित ने किया। इसमें डॉ अशोक प्रियदर्शी, डॉ विद्याभूषण, कौशल किशोर आेझा, डॉ माया प्रसार, कुशेश्वर ठाकुर, जगतानंद, डॉ रमापति तिवारी और पीसी मिश्र ने हिंदी के प्रयोग की विभिन्न पहलुआें पर प्रकाश डाला। समापन पर कार्यकारी निदेशक प्रो सुदीप घोष ने विचार रखें। संचालन सुरेश प्रसाद ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कोयला जगत की खबरें