DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब किसानों को जिला स्तर पर मिलेगी कृषि मौसम परामर्श सेवा

अब किसानों को जिला स्तर पर कृषि मौसम परामर्श सेवा उपलब्ध होगी। यह व्यवस्था जून में पूरे देश में एक साथ शुरू होनी है। इसके लिए 44 करोड़ का प्रावधान किया गया है। इसके लिए सभी राज्यों को जिलास्तरीय बैठक करने का निर्देश दिया गया है। पंजाब इसमें बाजी मार चुका है। यह नयी योजना पृथ्वी एवं विज्ञान मंत्रालय की है। राष्ट्रीय मध्य अवधि मौसम पूर्वानुमान केंद्र के द्वारा अब तक यह सेवा एग्रो क्लाइमेटिक जोन स्तर पर दी जा रही है। केंद्र के वरीय वैज्ञानिक अशोक कुमार बखला के मुताबिक देशभर में स्थित 127 एग्रो क्लाइमेटिक जोन के माध्यम से परामर्श दिया जायेगा। नयी व्यवस्था में पांच स्तरीय संरचना होगी। अंतिम स्तर पर सूचना जिला स्तरीय कृषि कार्यालय से किसानों को मिलेगी। इसके मद्देनजर ही इसमें राज्यों को शामिल किया गया है। सभी को बैठक करने का निर्देश भी दिया गया है। इसके लिए 50 हजार दिये गये हैं। किसानों तक सूचना पहुंचाने के लिए गैर सरकारी संगठन, आत्मा, मीडिया का सहयोग लिया जायेगा। वैज्ञानिकों का मानना है कि इसके सही ढंग से लागू होने पर कृषि क्षेत्र में क्रांति आ सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब किसानों को जिला स्तर पर मिलेगी कृषि मौसम परामर्श सेवा