अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेपाल हाउस और प्रोजेक्ट भवन में पूरे दिन हुई नारेबाजी

सचिवालय संयुक्त कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर सोमवार को भी नेपाल हाउस में लगभग पूर्ण तालाबंदी रही। विभागों के ताले नहीं खुले। कामकाज पूरी तरह ठप रहा। नेपाल हाऊस परिसर, मुख्य गेट और भवन के सभी तल्लों पर सशस्त्र और लाठीधारी पुलिस का कड़ा पहरा रहा। उधर जिला प्रशासन ने सुबह से ही नेपाल हाउस परिसर के आसपास धारा 144 लागू कर दिया। डीसी अविनाश कुमार स्वयं स्थिति का मुआयना करते देखे गये। नेपाल हाऊस गेट पर प्रदर्शन कर रहे कर्मचारी संघ के नेताआें को 200 गज की दूरी तक हटा दिया गया। कर्मचारी संघ के नेता और कर्मचारी गेट से दूर सड़क पर बैठ कर रूक-रूक कर सरकार विरोधी नारे लगा रहे थे। कर्मचारी महासंघ के केंद्रीय प्रवक्ता आदिल जहीर ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हम सरकार से ठकराव नहीं चाहते। सरकार हठधर्मिता छोड़ कर चतुर्थवर्गीय कर्मियों की एसीपी और बोनस की मांग मान लंे। दोपहर में आत्मदाह में आंशिक रूप से घायल अतीश झा भी नेपाल हाउस पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारी कर्मचारियों से कहा कि हमारी मांगें जब तक पूरी नहीं होती हैं, तबतक आंदोलन जारी रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नेपाल हाउस और प्रोजेक्ट भवन में पूरे दिन हुई नारेबाजी