DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

११०० इंटर कॉलेजों की मान्यता वापस लेने की तैयारी

माध्यमिक शिक्षा मंत्री रंगनाथ मिश्र ने सोमवार को अजुहा क्षेत्र के अनीसा इंटर कॉलेज, सूरजपाल इंटर कॉलेज, गौतम बुद्ध इंटर कॉलेज, शिवकुमार उत्तर माध्यमिक विद्यालय, कृष्णा इंटर कॉलेज शाखा और राम सजीवन उ.मा. विद्यालय भैरमपुर परई केन्द्र का हाईस्कूल गणित का पहला पर्चा निरस्त कर दिया। मेजा के काशी प्रसाद इंटर कॉलेज में मंत्री को प्रश्नपत्र की हल कार्बन कॉपी और गाइड मिली। उन्होंने वहाँ के प्राचार्य भानुदत्त व दो कक्ष निरीक्षकों को जेल भिजवा दिया।ड्ढr अपने दौरे के क्रम में वह राष्ट्रीय शिक्षा निकेतन बालिका इंटर कॉलेज पहुँचे। वहाँ गेहूँ के खेत से गणित और गृह विज्ञान की उत्तर पुस्तिकाएँ मिलीं। वहाँ भी परीक्षा निरस्त कर केन्द्र व्यवस्थापक महेशदत्त पाण्डेय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई। श्री मिश्र ने बताया कि सख्ती के कारण अब तक 4.46 लाख परीक्षार्थी परीक्षा छोड़ चुके हैं। गाजीपुर, कौशाम्बी, अतरौला व अलीगढ़ में विशेष जाँच अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। उन्होंने बताया कि 1100 माध्यमिक विद्यालयों की मान्यता वापस लेने की कार्यवाही चल रही है।ड्ढr अजुहा में भले ही नकल करने और कराने वालों के खिलाफ खूब कार्रवाई हो रही हो लेकिन पूर्वी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर, मऊ, इलाहाबाद और आजमगढ़ में नकल माफिया ने सोमवार को सारी सख्ती छिन्न-भिन्न कर दी। विभाग की लगाम ढीली होने से कुछ जगह ही कार्रवाई हो सकी। गाजीपुर के जखनिया में गणित के हल प्रश्नपत्र की कार्बन कॉपी मिली। दो कक्ष निरीक्षक भी बोलकर नकल कराते धरे गए। एक बाबू कोड्ढr पुलिस के हवाले किया गया। मऊ में नकल होतीड्ढr रही और स्टेटिक मजिस्ट्रेट के तौर पर तैनात तहसीलदार सदर जगदम्बा सिंह आराम फरमाते रहे। इलाहाबाद के झूँसी इलाके में भी खूब नकल होने की खबर मिली है। सोनभद्र का हाल भी ऐसा ही रहा। वैसे अफसर यह मानने से इनकार कर रहे हैं कि नकलड्ढr हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ११०० इंटर कॉलेजों की मान्यता वापस लेने की तैयारी