DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सम्मेलन में नहीं आये 587 वीइसी अध्यक्ष को शो कॉज

शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की ने ग्राम शिक्षा समिति के अध्यक्षों को कुम्हार की उपमा देते हुए मोमबत्ती की तरह जल कर रोशनी देने की बात कही। उन्होंने ईमानदारी से जिम्मेवारी निभाने एवं दायित्व का निर्वहन गंभीरता से करने की सलाह भी दी। शिक्षा मंत्री 11 मार्च को ग्राम शिक्षा समिति (वीइसी) के अध्यक्षों के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। हरमू मैदान में आयोजित सम्मेलन में अनुपस्थित 587 अध्यक्षों को शो कॉज जारी करने का निर्देश भी दिया। रांची-खूंटी जिले में 3700 वीइसी अध्यक्ष हैं। उन्होंने कहा कि बेहतर करनेवाले ग्राम शिक्षा समिति के अध्यक्षों को सम्मानित किया जायेगा। जिलावार इसका मूल्यांकन होगा। इसके उपरांत अध्यक्षों को सरप्राइज दिया जायेगा। उन्हें दूसरे राज्यों में भ्रमण के लिए भेजा जायेगा। रांची को शिक्षा के क्षेत्र में नंबर-1 बनाने के लिए अध्यक्षों को संकल्प लेने की जरूरत है। अध्यक्ष ईमानदारी से काम करें। राशि सरकार देगी।ड्ढr विधायक प्रकाश राम ने कहा कि स्कूल में समिति गौण है, शिक्षक हावी हैं। कार्य के प्रति वीइसी अध्यक्ष को गंभीर होने की जरूरत है।ड्ढr राज्य परियोजना निदेशक राजीव अरुण एक्का ने कहा कि स्कूली व्यवस्था को सुदृढ़ करना वीइसी की जिम्मेवारी है। डीएसइ प्रदीप कुमार चौबे ने वीइसी अध्यक्षों को उनके अधिकार एवं कर्तव्यों के बारे में बताया। इस मौके पर परियोजना के गुप्तेश्वर राम, आरडीडीइ अजय मुखर्जी, डीइआे अशोक शर्मा, आेएसडी अनवर अली, रतन श्रीवास्तव समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सम्मेलन में नहीं आये 587 वीइसी अध्यक्ष को शो कॉज