DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा की गैर हाजिरी में ठहाकों के बीच हुए विदा

विधानसभा के बजट सत्र की बैठक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित होने पर विधानसभा के सदस्य ठहाकों के बीच एक-दूसरे से विदा हुए। यह बात दीगर है कि इस मौके पर समाजवादी पार्टी के सदस्यों की गैरहाजिरी खली। खास बात यह रही कि इस बार बजट सत्र की बैठकों की कार्यवाही कई साल बाद शांति से चली। करीब एक दशक के बाद यह पहला मौका था जब विधानसभा के सुरक्षा कर्मियों को सदस्यों से धक्कामुक्की को बाध्य नहीं होना पड़ा। सदन के इस माहौल के लिए दलीय नेताओं ने विधानसभा अध्यक्ष सुखदेव राजभर के व्यवहार की खुलकर प्रशंसा की। इस बीच, संसदीय कार्य मंत्री लालजी वर्मा ने मुख्यमंत्री की ओर से विधानसभा सचिवालय कर्मियों को हर बार की तरह ढाई-ढाई हजार विशेष मानदेय देने की घोषणा की।ड्ढr श्री वर्मा ने बताया कि बजट सत्र में विधानसभा की कुल 18 बैठकें हुईं। कुल 125 घंटे सदन की कार्यवाही चली। एक दिन में अधिकतम 11 घंटे 10 मिनट तक कार्यवाही चली। प्रतिदिन का औसत करीब आठ-नौ घंटे रहा। भाजपा के नेता ओमप्रकाश सिंह ने विदाई के मौके पर कहा कि कई साल से सदन की परंपरा और कार्यवाही पर प्रश्नचिन्ह लग रहे थे।ड्ढr यह सवाल भी उठ रहे थे कि लोकतंत्र और उसके मूल्यों का क्या होगा। लेकिन इस बार पुन: स्वस्थ परपंरा की शुरूआत एक उदाहरण है। उन्होंने इसका पूरा श्रेय विधानसभा अध्यक्ष को दिया। श्री सिंह ने कहा कि अध्यक्ष ने सत्ता दल के दबाव से खुद को मुक्त रखा। इसकी पीड़ा कई बार संसदीय कार्य मंत्री के चेहरे पर झलकी। कांग्रेस के प्रमोद तिवारी ने हँसी की फुलझड़ी छोड़ते हुए कहा कि ऐसा लग रहा है जैसे परिवार बिखर रहा है। उन्होंने कहा कि आठ फरवरी को सदन की शुरूआत ठंड में हुई थी और अब गर्मी लेकर जा रहे हैं। दलीय नेताओं में रालोद के कोकब हमीद, जनमोर्चा के डा.धर्मपाल सिंह और जदयू के धनंजय सिंह ने भी अध्यक्ष की भूमिका को सराहा। सभी दलीय नेताओं ने जल्द मिलने की उम्मीद के साथ विधानसभा के 62 सुरक्षा कर्मियों को लोकसभा के समान वेतनमान देने और विधानसभा के सभी कर्मियों का विशेष मानदेय ढाई हजार से बढ़ाकर पाँच हजार करने पर जोर दिया। विधानसभा अध्यक्ष ने नेता सदन, नेता विपक्ष व सभी दलीय नेताओं व सदस्यों का सहयोग के लिए आभार जताते हुए हरेक की विशिष्टताओं का जिक्र किया। साथ ही नए सदस्यों से अपील की कि वे वरिष्ठ सदस्यों की नजीर को स्वीकार कर आगे बढ़ें। इस मौके पर उन्होंने सभी को होली की बधाई भी दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सपा की गैर हाजिरी में ठहाकों के बीच हुए विदा