अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक में इमामबाड़े पर फिदायीन हमला

पाकिस्तान में रविवार को फिर एक मानव बम फटा जिसमें 22 लोगों की मौत हो गई और दर्जनों अन्य घायल हो गए। यह आत्मघाती विस्फोट राजधानी इस्लामाबाद से मात्र 0 किलोमीटर के फासले पर पंजाब प्रांत के चकवाल शहर में एक धार्मिक जलसे के दौरान हुआ। इससे पहले शनिवार को भी इस्लामाबाद के पॉश एरिया में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय के निकट ठीक इसी तरह एक मानव बम ने खुद को उड़ा कर आठ सुरक्षाकर्मियों को ढेर कर दिया था। रविवार को शिया समुदाय के सालाना जलसे ‘मजलिस अजा’ के मौके पर स्थानीय इमामबाड़े में करीब दो हाार की भीड़ इकट्ठा थी। पुलिस के मुताबिक, दोपहर करीब साढ़े 12 बजे का वक्त था। तभी 17 साल के एक किशोर ने भीड़ में घुसने की कोशिश की। सुरक्षाकर्मियों ने जब उसे रोकना चाहा तो उसने विस्फोट से खुद को उड़ा दिया। एक प्रत्यक्षदर्शी न ‘डान न्यूज’ को बताया कि हमलावर काल कपड़ों में था और एक कार स उतरकर इमामबाड़ क मुख्य प्रवश द्वार की ओर लपका था। उसने प्रवेश द्वार पर ही सुरक्षा कर्मियों को चुनौती देने के बाद खुद को उड़ा दिया। विस्फोट स मसिद क बाहर खड़ी आधा दर्जन कारं भी क्षतिग्रस्त हो गईं। क्षेत्रीय पुलिस प्रमुख नसीर खान दुर्रानी ने बताया कि हमले में 22 लोग मारे गए हैं जबकि चार दर्जन से अधिक घायल हुए हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमलावर भीड़ में घुसने में कामयाब हो जाता तो मृतकों की संख्या बहुत अधिक हो सकती थी। चकवाल शहर राजधानी इस्लामाबाद स मात्र 0 किलोमीटर के फासले पर है। शहर जिला अस्पताल क सूत्रों ने 22 शवों और 50 स अधिक घायलों को अस्पताल लाए जाने की कही है। घायलों मं अधिकतर की हालत नाजुक है। जिला पुलिस अधिकारी बी.एन.नासिर के मुताबिक मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है। उन्होंने बताया कि गंभीर रूप स घायल लोगों को रावलपिंडी स्थानांतरित किया गया है। हमले की जिम्मेदारी अभी किसी संगठन ने नहीं ली है। राष्ट्रपति जरदारी और प्रधानमंत्री गिलानी ने इसे जघन्य कार्रवाई बताया है। जरदारी ने कहा कि ऐसे कृत्यों के पीछे कुछ संगठित लोग हैं जो नहीं चाहते कि मुल्क में अमन रहे। वे दुनिया में पाकिस्तान को बदनाम करना चाहते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पाक में इमामबाड़े पर फिदायीन हमला