अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुपरी-सुरसंड सड़क में चैनपुरा गांव के पास बुधवार की शाम पांच बजे पुरानी अधवारा नदी के पुल का रेलिंग तोड़कर एक ट्रैक्टर तीस फीट नीचे जा गिरा। जिस कारण ट्रैक्टर पर सवार दो बच्चे की मौत घटनास्थल पर ही हो गई जबकि ट्रैक्टर पर सवार आधा दर्जन व्यक्ित गंभीर रूप से जख्मी हो गए। गड्ढे में पलटे ट्रैक्टर के मलबे के नीचे दबे शव को निकालने का प्रयास ग्रामीणों द्वारा किया जा रहा है।संभावना है कि अभी भी लाश मलबे के नीचे फंसा हुआ है।ड्ढr ड्ढr घटनास्थल से प्राप्त जानकारी के अनुसार तेम्हुआ गांव के राम विनय राय का ट्रैक्टर चैनपुरा गांव में एक व्यक्ित का मिट्टी ढो रहा था। ट्रैक्टर चालक मिट्टी लेकर सरेह से चैनपुरा गांव ला रहा था। इस पर चैनपुरा गांव के तीन-चार बच्चे एवं तीन-चार की संख्या में मजदूर सवार थे। ट्रैक्टर जब पुल पर पहुंचा तो एक आदमी को बचाने के क्रम में पुल की रेलिंग तोड़ते हुए 30 फीट नीचे पानी भरे गड्ढे में जा गिरा जिससे चैनपुरा गांव निवासी योगेन्द्र राय के 8 वर्षीय पुत्र जितो कुमार और रंजीत राय के दस वर्षीय पुत्र सुमित कुमार की मौत ट्रैक्टर में दबकर घटनास्थल पर ही हो गई। जबकि रंजीत राय के दूसरे पुत्र की लाश की खोज की जा रही है। ट्रैक्टर पर सवार मजदूर भीमा गांव निवासी नागेन्द्र मुखिया व अन्य गंभीर रूप से जख्मी है। ट्रैक्टर चालक जख्मी होकर फरार है। घटनास्थल पर डीएसपी पुपरी अजीत कुमार के निर्देशन में गड्ढा से ट्रैक्टर के मलवा के नीचे में दबे व्यक्ित की लाश होने की आशंका में ग्रामीणों के सहयोग से पुपरी पुलिस खोजने में जुटी है। समाचार प्रेषण तक ट्रैक्टर का मलबा हटाया नहीं जा सका था जिस कारण मृतकों की सही संख्या नहीं मिल पायी है। परंतु मृतकों की संख्या अधिक होने की आशंका है। गंभीर रूप से जख्मी लोगों को विभिन्न निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। बीडीआे अंसार अहमद एवं अवर निरीक्षक निरंजन पासवान भी घटना स्थल पर मौजूद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: