DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोधगया के संस्कृत कालेज की निगरानी जांच शुरू

ुलाधिपति के निर्देश के आलोक में मंत्रिमंडल निगरानी के अपर महानिदेशक नीलमणि ने बोधगया स्थित महंथ शतानंद गिरि हरिहर संस्कृत कालेज के प्रधानाचार्य के खिलाफ लगाये गये आरोपों की जांच के लिए निगरानी टीम गठित कर दी। जांच शुरू भी हो गयी है। जांच का जिम्मा डीएसपी एमके कुमार को सौंपा गया है।ड्ढr ड्ढr मालूम हो कि कालेज के प्रधानाचार्य डा. अरविंद कुमार पाण्डे के विरुद्ध एक व्यक्ित ने करीब 1100 छात्रों के नामांकन एवं परीक्षा प्रपत्र भरवाने में अनियमितता बरतने का आरोप लगाया था। कुलपति ने कुलसचिव को सदस्य सचिव बनाते हुए समिति में डा. प्रभुनारायण झा, डा. चंद्रमोहन झा, डा. सुरेश्वर झा, डा. चौठी सदाय को शामिल कर जांच करने का आदेश दिया। समिति ने गत वर्ष 12 और 13 जून को कालेज जाकर मामले की जांच की और 27 जून को कुलपति को प्रतिवेदन सौंप दिया। जांच समिति ने अपने निष्कर्ष में कहा कि जिन परीक्षार्थियों का परीक्षा प्रपत्र अग्रसारित किया गया, उनकी नामांकन पंजी का संधारण नहीं हुआ।ड्ढr ड्ढr नामांकन के समय छात्रों से मूल विद्यालयकालेज परित्याग प्रमाण पत्र नहीं लिए गए, नियमित छात्रों की वर्ग में उपस्थिति संबंधी अभिलेख नहीं है तरथा शास्त्री व उपशास्त्री में नियमित रूप से अग्रसारित 1100 से अधिक छात्रों के अध्ययन-अध्यापन के लिए आधारभूत सुविधा यथा शिक्षक, उपस्कर व अध्ययन कक्ष कालेज में उपलब्ध नहीं हैं। कुलपति से अपने मंतव्य के साथ कुलाधिपति को प्रतिवेदन भेज दिया था। इसके बाद राज्यपाल सचिवालय ने कुलाधिपति के आदेश से एक अक्तूबर 07 को निगरानी आयुक्त को पत्र लिखकर मामले की जांच का निर्देश दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बोधगया के संस्कृत कालेज की निगरानी जांच शुरू