अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिवानंद, एनके सिंह को टिकट

जदयू ने राज्यसभा एवं विधान परिषद के द्विवार्षिक एवं राज्यसभा की एक सीट के लिए हो रहे उप चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम की आधिकारिक घोषणा कर दी है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव के हवाले से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक एनके सिंह, शिवानंद तिवारी और डा. एजाज अली को राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया गया है। डा. अली राजद सांसद मोतिउर्रहमान के निधन से रिक्त हुई सीट के लिए हो रहे उप चुनाव के उम्मीदवार हैं। इधर पूर्व विधायक रामधनी सिंह, मो. हारून रसीद, सतीश प्रसाद एवं हीरा प्रसाद विंद को जदयू ने विधान परिषद का उम्मीदवार बनाया है।ड्ढr ड्ढr उम्मीदवार घोषित होने के बाद एनके सिंह ने राज्य योजना पर्षद के उपाध्यक्ष पद से और नालंदा जिला 20 सूत्री कमिटी के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। इसबीच प्रदेश जदयू अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने उम्मीदवारों की सूची को बेहद संतुलित बताते हुए कहा है कि जदयू ने सभी वगरे और क्षेत्रों पर ध्यान दिया है। उन्होंने कहा कि परिषद के उम्मीदवार बनाए गए सतीश प्रसाद तुरहा बिरादरी के पहले व्यक्ित हैं जो किसी सदन में जाएंगे। आज तक इस बिरादरी का कोई भी व्यक्ित संसद या विधानमंडल का सदस्य नहीं बना। श्री सिंह ने कहा कि डा. एजाज अली राइन बिरादरी के हैं और उन्होंने पिछड़े मुसलमानों को अधिकार दिलाने के लिए लंबे समय तक संघर्ष किया। लोजपा ने उतारा साबिर कोड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। राज्यसभा चुनाव में साबिर अली लोक जनशक्ित पार्टी के प्रत्याशी होंगे। पार्टी विधायकों में वरीय उपाध्यक्ष डॉ. रंजन प्रसाद यादव के नाम पर विरोध को शांत करने के साथ ही यूपीए की एकजुटता के लिहाज से भी यह रणनीति आगामी चुनाव में काफी महत्वपूर्ण रहेगी। बुधवार की देर रात राष्ट्रीय अध्यक्ष व केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने साबिर अली की उम्मीदवारी पर मुहर लगा दी। वैसे तो नाम तय करने के लिए बैठकों के कई दौर चले लेकिन पार्टी का दावा है कि निर्णय सर्वसम्मति से हुआ है। राज्यसभा चुनाव में लगभग तय प्रत्याशी माने जा रहे डॉ. यादव ने भी इस निर्णय को सिर-माथे लगा लिया है। श्री अली गत विधानसभा चुनाव में मोतिहारी से लोजपा के प्रत्याशी थे। दिनभर शीर्ष नेताओं द्वारा विधायकों को समझा-बुझाकर डॉ. यादव के नाम पर आम सहमतिबनाने का प्रयास हुआ मगर देर रात में विधान पार्षद संजय सिंह के घर के पर जुटे विधायकों को फोन पर शाबीर अली की उम्मीदवारी की सूचना मिली। लोजपा संयोजक पशुपति कुमार पारस ने बताया कि निर्णय सर्वसम्मति से हुआ है। शाबीर अली को उम्मीदवार बनाकर पार्टी ने स्पष्ट कर दिया है कि वह मुसलमान को अधिकाधिक प्रतिनिधित्व देने के अपने स्टैंड पर कायम है। उधर डॉ. यादव ने कहा कि उम्मीदवार के नाम की घोषणा से पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उनसे संपर्क किया था तो मैंने उन्हें बता दिया कि पार्टी हित में आपका हरेक निर्णय मान्य होगा। राष्ट्रीय अध्यक्ष के फैसले पर मुझे कोई आपत्ति नहीं है। इससे पहले सुबह में विधानसभा में विधायक दल के नेता महेश्वर सिंह के कार्यालय कक्ष में पार्टी विधायकों के बीच डॉ. यादव के नाम पर जबरदस्त विरोध था। सूत्रों की मानें तो एक बार महेश्वर सिंह ने विधायक दल के नेता का पद छोड़ने की धमकी दे डाली। हालांकि श्री सिंह ने ऐसी किसी बात से साफ इंकार करते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का निर्णय सभी को मान्य होगा। वे चाहें डॉ. यादव को उम्मीदवार बनाएं या किसी अन्य को।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शिवानंद, एनके सिंह को टिकट