DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उल्फा केंद्र से बातचीत को तैयार : इंदिरा गोस्वामी

प्रसिद्ध असमिया लेखिका इंदिरा गोस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट आफ असम (उल्फा) सरकार से बातचीत के लिए तैयार है। यद्यपि उल्फा चाहता है कि केंद्र सरकार उसकी मुख्य मांग संप्रभुता और स्वतंत्रता पर भी बातचीत करे। गोस्वामी ने बताया, ‘परेश बरुआ (उल्फा का स्वयंभू कमांडर) ने दो बार मुझे फोन किया और कहा कि वे लोग सीधी शांति वार्ता के लिए तैयार हैं लेकिन वे चाहते हैं कि संप्रभुता के मुद्दे पर भी बातचीत हो।’ गोस्वामी ने कहा, ‘मुझे समझ में नहीं आता कि सरकार संप्रभुता के मुद्दे पर बात क्यों नहीं कारना चाहती, आखिर इसका मतलब स्वतंत्रता प्रदान करना तो नहीं है।’ गोस्वामी पिछले तीन वर्षो से उल्फा नेताओं परेश बरुआ और अरबिंद राजखोवा के साथ निरंतर टेलीफोन पर संपर्क में हैं। वे सरकार और उल्फा के बीच कड़ी के रूप में काम कर रही हैं। मुख्य विपक्षी दल असम गण परिषद (अगप) के नेता चंद्र मोहन मोहंती कहते हैं कि उल्फा के साथ बिना शर्त बातचीत होनी चाहिए क्योंकि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति चिंताजनक हो गई है। इससे पहले उल्फा ने कहा था कि वह तभी बातचीत के लिए तैयार होगी जब सरकार जेल में बंद उसके पांच नेताओं को रिहा करेगी और संप्रभुता के मुद्दे को वार्ता का केंद्र बनाएगी। सरकार ने इन मांगों को रद्द कर दिया था।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: केंद्र से बातचीत को उल्फा तैयार :गोस्वामी