अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

25 को सार्वजनिक अवकाश हो

राज्य निर्वाचन आयोग ने सरकार से 25 मार्च को मतदान के दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित करने का अनुरोध किया है। आयोग के सचिव ने कार्मिक विभाग के प्रधान सचिव को लिखे पत्र में कहा है कि राज्य के जिन जिलों के निकाय क्षेत्रों में उक्त तिथि को मतदान है,वहां सरकारी कर्मियों को मतदान में भाग लेने के लिए अवकाश दिया जाए।ड्ढr अधिकारियों को मजिस्ट्रेट का पावर देने का अनुरोधड्ढr राज्य निर्वाचन आयोग ने नगर निकाय चुनाव के लिए प्रतिनियुक्त किये गये राज्य प्रशासनिक सेवा एवं अन्य सेवा के पदाधिकारियों को दंडाधिकारी एवं विशेष दंडाधिकारी की शक्ित प्रदान करने का अनुरोध राज्य सरकार से किया है। आयोग के सचिव भगवान प्रसाद ने इस संबंध में शुक्रवार को कार्मिक विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखा है। आयोग ने सभी जिला निर्वाची पदाधिकारियों को चुनाव कार्य के लिए चिह्न्ति पदाधिकारियों की सूची कार्मिक विभाग को भेजने का निर्देश दिया है।ड्ढr प्रेक्षकों ने भेजी पहली रिपोर्टड्ढr नगर निकाय क्षेत्रों मंे भेजे गये अधिकांश प्रेक्षकांे ने शुक्रवार को प्रथम प्रतिवेदन राज्य निर्वाचन आयोग को भेज दिया है। देर शाम तक आयोग के कार्यालय में 15 जिलों से प्रतिवेदन प्राप्त होने की सूचना है। प्रेक्षकों को निर्वाचन आयुक्त ने निर्देश दिया था कि वे अपने-अपने क्षेत्रों से 14 मार्च को प्रथम प्रतिवेदन आयोग को देंगे। प्रतिवेदन में प्रेक्षकों ने चुनाव कर्मियों का प्रशिक्षण, मतदान सामग्री के संकलन आदि का उल्लेख किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 25 को सार्वजनिक अवकाश हो