अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोण्डा में आरोपितों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला

टरा थानाक्षेत्र के दोहरे हत्याकांड के आरोपितों को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम को कड़े प्रतिरोध का सामना करना पड़ा। मंगलवार को आरोपितों की फायरिंग में एसआे एसपी सिंह समेत कई पुलिसकर्मी व पीएसी के जवान घायल हो गए। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में आरोपित पक्ष के भी आधा दर्जन लोग जख्मी हुए हैं, लेकिन इनमें किसी को गोली नहीं लगी है, उन्हें लाठी-डंडों से पीटा गया है। यह घटना बरवलिया के पास शाम चार बजे हुई। घायल पुलिस वालों को जिला चिकित्सालय व हमलावरों को करनैलगंज में भर्ती कराया गया। हमलावरों को मौके पर दबोचने के लिए डीजीपी विक्रम सिंह ने पुलिस टीम को 20 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है।ड्ढr उधर, एएसपी मानिकचंद सरोज ने बताया कि कटरा थानाध्यक्ष पुलिस टीम के साथ नानमून तिवारी व जसवंतलाल तिवारी की हत्या में आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए गए थे। पुलिस को देखते ही आरोपितों ने हमला बोल दिया। यह दोहरा हत्याकांड 11 मार्च को भूमि विवाद में हुआ था। उनके अनुसार, ग्रामीणों की मदद से हमलावरों को पुलिस ने धर दबोचा। एएसपी के अनुसार, हमलावरों ने फायरिंग के साथ धारदार हथियारों से भी पुलिसवालों पर हमला बोला। हमले में थानाध्यक्ष कटरा एसपी सिंह, उपनिरीक्षक अयोध्या नाथ, आरक्षी पवन सिंह, पीएसी के सिपाही बृजेन्द्र कुमार, अरविन्द भारती, सुभाषचंद्र व मुख्य आरक्षी रामदुलारे घायल हुए हैं। इनमें कटरा थानाध्यक्ष व सिपाही पवन सिंह को गोली लगी है, बाकी पर धारदार हथियार से हमला किया गया है। पुलिस के जवाबी हमले में रक्षाराम, टीडी, तुलसीराम, ननके, भुल्लू व रामअक्षयवर भी जख्मी हुए हैं। इनमें पाँच दोहरे हत्याकांड के आरोपित हैं व भुल्लू रिश्तेदार है। इन सभी को मौके पर ही पुलिस ने दबोच लिया। पुलिस टीम पर हमले की सूचना मिलते ही कई थानों की फोर्स मौके पर भेजी गई। घटनास्थल से एक बाँका, तमंचा व छह जिंदा कारतूस बरामद हुए। एसपी व एडीएम जिला अस्पताल पहुँचे। घायल पुलिसकर्मियों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गोण्डा में आरोपितों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला