DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिटी और नौबतपुर में हत्या, दोस्त को गोली मारी

आलमगंज थाना क्षेत्र के मस्जिद गली में एक सिपाही पुत्र ने दोस्त को गोली मारकर हत्या कर दी। घटना का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है लेकिन बताया जाता है कि ताश खेलने के लिए मना किए जाने पर दो-तीन दिन पहले नोकझोंक हुई थी। एक अन्य घटना में अपराधियों ने एक युवती का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। नौबतपुर के पितवांस गांव के बधियार से मंगलवार की शाम पुलिस ने अपहृत युवती की लाश बरामद की। पुलिस के अनुसार उक्त लाशपालीगंज निवासी कृष्णा साव की बेटी रिंकी की है। इसकी परिणति में मंगलवार की दोपहर मस्जिद गली में घटना घटी। मृतक शादाब (17 वर्ष) नकी मियां का बेटा बताया जाता है।ड्ढr ड्ढr मृतक के पिता सउदी अरब में काम करते हैं जबकि शादाब बाकरगंज स्थित अपने चाचा की टेलरिंग दुकान से काम करके घर लौटा था। साइकिल लगाने के बाद पड़ोस के ही यातायात सिपाही का बेटा आवाज देकर शादाब को बुलाया और बाहर आने पर कुछ कहा-सुनी हुई और गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। घटना के समय में दो लोग थे। स्थानीय लोगों के मुताबिक हत्यारा मृतक का दोस्त बताया है। वहीं शादाब सिपाही की पहली पत्नी का पुत्र बताया जाता है। कुछ वर्ष पहले ही यातायात पुलिस ने पहली पत्नी को तलाक दे दिया था। इस सिलसिले में आरक्षी उपाधीक्षक सुरेश प्रसाद चौधरी ने बताया कि हत्यारों में एक की पहचान की गई है जो मस्जिद गली का फिरोज उर्फ मुद्दी बताया जाता है। हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। घटना स्थल से पुलिस ने एक पिस्तौल बरामद किया है जबकि लाश को पोस्टमार्टम के लिए नालंदा मेडिकल कॉलेज भेजा गया है।ड्ढr बताया जाता है कि रिंकी सोमवार को अपने पिता के साथ नौबतपुर थाने के गोवाय गांव स्थित अपने फूफा के घर जा रही थी मगर रास्ते में ही अपराधियों ने उसका अपहरण कर लिया। उसके पिता ने इस घटना की सूचना कहीं दर्ज नहीं करायी। शव बरामद होने के बाद पुलिस उसके पिता से पूछताछ कर रही है। मुखिया की बेटी का अपहरणड्ढr पटनामसौढ़ी(का.सं.नि.सं.)। धनरूआ थाने की पभेड़ा पंचायत के मुखिया व रेड़बिगहा गांव निवासी उपेन्द्र कुमार की नाबालिग बेटी रंजना कुमारी के अपहरण का मामला प्रकाश में आया है। दूसरी आेर पटना के रूपसपुर थाने में एक एलआईसी एजेंट की गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया गया है। एलआईसी एजेंट संतोष कुमार (31) जगदेव पथ के समीप स्थित लोहिया पथ का निवासी है। नाबालिग बेटी के अपहरण के मामले में उपेन्द्र शर्मा उर्फ कुमारसागर, धर्मेन्द्र शर्मा, बंगाली शर्मा, हीरामजी देवी व अनिता देवी (सभी यौगीपुर मुहल्ला पत्रकारनगर थाना) के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। मुखिया उपेन्द्र कुमार ने दर्ज प्राथमिकी में कहा है कि वह योगीपुर (पत्रकारनगर) मुहल्ला निवासी अजय यादव के मकान में किराए का डेरा लेकर रहते है। वहीं मकान मालिक के भाई संजय यादव के घर में आरोपी पक्ष के बतौर किराएदार रहने से संपर्क हो गया।ड्ढr ड्ढr इस बीच उसके भाई की 13 मार्च को शादी थी जिसमें आमंत्रण पर आरोपी पक्ष उसके गांव रेड़बिगहा आए और दूसरे दिन उसकी बारह वर्षीया पुत्री रंजना को घुमाने का बहाना बना कर मसौढ़ी ले गए और उसका अपहरण कर लिए। अभियुक्तों के पटना स्थित आवास के अलावा कैमूर के सोहन थाने के पोखरा स्थित पैतृक घर पर भी खोजबीन की। मगर अपहृता वहां भी नहीं मिली। वैसे इसे प्रेम-प्रसंग का मामला मान कर धनरूआ पुलिस छानबीन कर रही है।ड्ढr संतोष के परिजनों के मुताबिक वह 8 मार्च से ही लापता है। उस दिन संतोष अपने बहनोई शशिकांत प्रसाद के साथ उनके जमाल रोड स्थित दुकान ‘गायत्री सेल्स’ पर गया था। वहां से शाम छह बजे संतोष अपने स्कूटर (बी.पी.एन.-343) से घर के लिए चला लेकिन रहस्यमय तरीके से गायब हो गया। संतोष का मोबाइल भी बंद है। कई जगहों पर खोज करने के बावजूद सुराग नहीं मिलने पर 12 मार्च को पुलिस को सूचना दी गई। दूसरी तरफ रूपसपुर थानाध्यक्ष शेख साबिर ने मंगलवार को बताया कि इस बाबत सभी जगहों पर सूचना दे दी गई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। हालांकि घटना गांधी मैदान थाना क्षेत्र की है। इस संबंध में दानापुर एएसपी ने गांधी मैदान थाने को भी सूचना दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सिटी और नौबतपुर में हत्या, दोस्त को गोली मारी