अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईसीसी की आईपीएल को नीतिगत मंजूरी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) समर्थित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को आखिरकार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की नीतिगत सहमति मिल गई है। हालांकि आईसीसी ने कहा कि निजी फ्रेंचाइजी की दखलंदाजी से खेल को कुछ खतरा हो सकता है लेकिन यह एक अच्छा विचार है जो लाभकारी हो सकता है। आईसीसी बोर्ड ने मंगलवार को दुबई में आयोजित बैठक में कहा कि बीसीसीआई को आईसीसी के सभी सदस्य देशों के साथ एक आदर्श अनुबंध पर हस्ताक्षर करने होंगे, जिसमें अन्य शतरे के साथ ही संबंधित बोर्ड को अपने किसी भी खिलाड़ी के आईपीएल में खेलने पर आपत्ति दर्ज कराने का अधिकार होगा। आईसीसी बोर्ड ने हालांकि जोर देकर कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को हमेशा ही प्राथमिकता दी जाएगी और इसे जारी रखने के लिए बीसीसीआई को आईसीसी के सदस्य देशों के साथ एक समझौता करेगा।ड्ढr समझौते की अन्य शतरे के अनुसार सदस्य देश किसी भी खिलाड़ी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद दो वर्ष तक आईपीएल में खेलने पर आपत्ति दर्ज करा सकता है। आईपीएल और इसकी टीमों को इन आपत्तियों का सम्मान करते हुए संबंधित खिलाड़ी के साथ अनुबंध नहीं करना होगा। आईसीसी ने कहा कि वह अगले कुछ वषरे तक आईपीएल की प्रगति पर नजर रखेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि यह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के साथ सामंजस्य बनाते हुए कार्य करे। हालांकि बैठक के दौरान बीसीसीआई या आईपीएल ने अपने ट्वेंटी20 टूर्नामेंट के लिए आईसीसी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर में फेरबदल करने का कोई अनुरोध नहीं किया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईसीसी की आईपीएल को नीतिगत मंजूरी