अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘सरबजीत का भाग्य नई सरकार के हाथ’

पाकिस्तान में मानवाधिकार आयोग की अध्यक्ष असमां जहांगीर ने कहा है कि भारतीय कैदी सरबजीत के भाग्य का फैसला पाकिस्तान में गठित होने वाली नई सरकार के हाथों में होगी। उल्लेखनीय है कि सरबजीत के खिलाफ पाक सरकार ने फांसी का वारंट जारी कर दिया गया है और 1 अप्रैल को फांसी का दिन भी मुकर्रर कर दिया गया है। जहांगीर ने यह भी कहा कि बड़े स्तर के अधिकारी प्रयासरत हैं कि किसी तरह सरबजीत की फांसी को टाला जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि समस्या यह है कि राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ हमारी बात सुन ही नहीं रहे। लेकिन इसके बावजूद हम अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नई सरकार बनने में ज्यादा दिन नहीं रह गए हैं, ऐसे में यह नई सरकार के हाथ में होगा कि वह सरबजीत पर क्या फैसला करती है। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने मंगलवार को पाक सरकार से मानवता के आधार पर सरबजीत को माफ करने की औपचारिक अपील की है। सरबजीत को फांसी की सजा 10 में दो बम विस्फोट करवाने का आरोप है, जिसमें 14 लोग मारे गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘सरबजीत का भाग्य नई सरकार के हाथ’