DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेपाल में चुनावी माहौल फिलहाल बेहतर : यूएन

असंयुक्त राष्ट्र ने नेपाल सरकार, वहां के सुरक्षा बलों, राजनीतिक पार्टियों और चुनाव अधिकारियों से कहा है कि वे छापामार हिंसा को रोकने के लिए एकजुट होकर काम करें ताकि देश में अगले महीने होने वाले चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से संपन्न हो सकें। संयुक्त राष्ट्र के निगरानी दल ने देश में हालांकि सुरक्षा हालातों को पहले से बेहतर बताया है लेकिन इस अंदेशे से भी इनकार नहीं किया है कि 10 अप्रैल को होने वाले आम चुनाव के दौरान हिंसा पलटवार कर सकती है। गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून द्वारा गठित निगरानी टीम चुनावों के मद्देनजर अब तक चार बार नेपाल का दौरा कर चुकी है। अपने बयान में टीम ने कहा है कि मौजूदा सकारात्मक हालात न सिर्फ चुनावों, बल्कि चुनावों के उपरांत भी बने रहने चाहिए। खासकर वोटों की गिनती और चुनाव नतीजों की घोषणा के दौरान काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है। इस बीच नेपाल में मानवाधिकारों की स्थिति पर नजर रखने वाले संयुक्त राष्ट्र मिशन ने बुधवार शाम मध्य-पश्चिमी क्षेत्र मंे राष्ट्रीय जनमोर्चा के उम्मीदवार कमल अधिकारी की हत्या पर गंभीर चिंता जताई है। मिशन ने अपने एक बयान में कहा है कि इस तरह की घटनाआें से चुनावी फिजा बिगड़ेगी। बयान के मुताबिक, मिशन के अधिकारी निष्पक्ष चुनावों के लिए वातावरण तैयार करने की अपनी जिम्मेदारी निभाते रहेंगे। ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नेपाल में चुनावी माहौल फिलहाल बेहतर : यूएन