DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अतुल्य भारत के 15 गांवों में नेपुरा शामिल

चौखट के अंदर घूंघट में रहने वाली नेपुरा की महिलाएं सिंगापुर में तो अपनी कला का प्रदर्शन करेंगी ही, शीघ्र ही अतुल्य भारत द्वारा जारी विज्ञापनों में दूरदर्शन व पत्र-पत्रिकाओं में भी दिखेंगी। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) में चुने गए देश के पंद्रह गांवों में नेपुरा को शामिल किया गया है।ड्ढr ड्ढr इस गांव को पर्यटन विभाग ने एक सांस्कृतिक धरोहर के रूप में सहेजने को ठाना है। यह बिहार-झारखंड का एकमात्र गांव है जिसे चयनित किया गया है। यूएनडीपी के माध्यम से इस गांव की संस्कृति, खानपान, रहन-सहन, आचार-विचार, प्राचीन कलाओं समेत अन्य गतिविधियों को सहेजने तथा उन्हें पर्यटकों को लुभाने लायक बना इस दिशा में कई महत्वपूर्ण व दूरगामी कार्य किए जा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर यहां के लोगों खासकर महिलाओं के हौसले को परवान चढ़ाने के लिए यूएनडीपी की टीम नेपुरा पहुंच चुकी है। तीन घंटे की शूटिंग के लिए की जा रही फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी से क्या बच्चे, क्या बूढ़े सभी में मानो एक नयी जान आ गयी है। होली का खुमार यहां के पुरुषों व महिलाओं में तो चढ़ ही गया है। विशेष कार्य के लिए आयी यूएनडीपी की टीम भी इनसे प्रभावित हो उन्हीं के रंगों में रंग गयी। सबरंग में डूबे दीनानाथ वर्मा, नागेन्द्र नेपुरिया समेत अन्य ग्रामीणों ने बताया कि ‘का कहें साहेब कल तक हमनी लोगन रेशम के कपड़ा तो बनइबे कर हलियई, लेकिन कोई पूछे वाला न हलथिन। लेकिन यूएनडीपी वालन जबसे हमनी के विकास लगी सोचे लगथिन हे तबसे हमनी के तो भागे खुल गेलई। इहां के बच्चा-बच्चा सब यूएनडीपी के दीवाना हो गेलो ह’।ड्ढr ड्ढr यूएनडीपी की टीम में शामिल शिल्पी तिवारी ने बताया कि ग्रामीणों की विभिन्न गतिविधियों की तीन घंटे की शूटिंग की जा रही है। इससे 60 सेकंड की फिल्म बनायी जाएगी। अतुल्य भारत के द्वारा जारी विज्ञापनों में इस गांव के दृश्यों को विभिन्न चैनलों व पत्र-पत्रिकाओं में दिखाया जाएगा। यूएनडीपी के दीपक कुमार ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले का नागर, हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले का ज्योतिसार, गुजरात के कच्छ का होडका, मध्यप्रदेश के अशोकनगर का प्राणपुर व मांडला का चौगन, कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ के बानावसी, केरल के अर्नाकुलम का कुंबलंघी, पटनम्शिट्टा के अर्नामुला, तमिलनाडु के शिवगंगा का करायकुड़ी, आंध्रप्रदेश के नालगोड़ा का पोचमपल्ली, पश्चिमबंगाल के बिरभूम का वल्लभपुरदंगा, सिक्िकम के उत्तर जिले का लैचेन, असम के कामरूप का सुआलीकुच्ची व नालंदा के नेपुरा गांव को यूएनडीपी ने गोद लिया है। उन्होंने बताया कि विदेशी व देसी पर्यटकों को इन गांवों तक लाना ही कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अतुल्य भारत के 15 गांवों में नेपुरा शामिल