अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छात्रों को बीमे पर एक तिहाई खर्च करना होगा

निजी क्षेत्र की प्रमुख इंश्योरेंस कंपनी आईसीआईसीआई लम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी अमेरिका जाने वाले कारोबारियों के लिए बिजनेस टूर, वहां रह रहे अपने बच्चों से मिलने जाने वालों के अतिरिक्त वहां पढ़ने जाने वाले विद्यार्थियों के लिए विशेष स्वास्थ्य बीमा पालिसी लेकर आई है। आईसीआईसीआई लम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी के ट्रेवल इंश्योरेंस एंड मार्केटिंग प्रमुख सुधीर मेनन ने हिन्दुस्तान को विशेष भेंट के दौरान बताया कि हमने इसके लिए अमेरिका स्थितड्ढr यूनाइटिड हेल्थ ग्रुप की ग्लोबल कंपनी यूनाइटिड हेल्थ इंटरनेशनल से सहयोग का करार किया है। करार के अनुसार अमेरिका जाने वालों के लिए इंश्योरेंस कराना एक जरूरी प्रक्रिया है, जो यहां के मुकाबले करीब तीन गुना अधिक बैठता है। आईसीआईसीआई लम्बार्ड द्वारा यहां किया गया बीमा अमेरिका के मुकाबले एक तिहाई में ही हो जाता है। यहां पर की गई पालिसी में यात्रा में हुई असुविधा का भी लाभ प्राप्त होता है, जबकि वहां पालिसी लेने से यात्रा बीमा की सुविधा नहीं मिलती। अमेरिका पढ़ने जाने वाले छात्रों को पढ़ाई के दौरान बीमा कराना आवश्यक होता है। वहां एक साल का प्रीमियम करीब 45,000 रुपये के आसपास बैठता है, जो उन्हीं सुविधाओं के साथ यहां केवल 15000 रुपये में हो जाता है, जिस पर वहां जाकर वहां की सारी सुविधाएं भी मिलती है। अमेरिका में इलाज कराना बहुत ही महंगा होता है, जो आमतौर पर यहां के मध्यम श्रेणी के लोगों के बूते से बाहर होता है। आमतौर पर अमेरिका जाने वालों में 75-80 प्रतिशत लोग बिजनेस टूर पर जाते है, 10 प्रतिशत लोग अपने बच्चों इत्यादि से मिलने जबकि पढ़ाई के लिए जाने वाले 15 फीसदी के आसपास होते हैं। इनमें पढ़ाई के लिए जाने वालों में अधिकतर एजूकेशन लोन लेने वाले होते है, जिनके लिए वहां बीमा पालिसी लेना जरूरी है, जो काफी महंगा पड़ता है। यूनाइटिड हेल्थ इंटरनेशनल से आईसीआईसीआई लम्बार्ड द्वारा किये गये करार के अनुसार यहां कराये गये बीमे पर अमेरिका में भी वहां की सारी सुविधाएं उपलब्ध होंगी और वह भी मात्र एक तिहाई पैसा खर्च करने पर।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छात्रों को बीमे पर एक तिहाई खर्च करना होगा