DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजरंग

मोबाइल के रिचार्ज होते ही अब हर कोई सुनने लगा है। 10 दिन, 20 दिन, महीना दिन से लेकर साल भर में इसे रिचार्ज कराते रहना पड़ता है। वैलीडिटी समाप्त हुई नहीं कि मोबाइल काम करना बंद कर देता है। शंकर के त्रिशूल पर बैठे झारखंड में भी अभियंताओं-अधिकारियों के साथ यही हो गया है। उन्हें भी अब रिचार्ज होना पड़ रह रहा है। वैसे तो इस प्रक्रिया से गुजरने की जानकारी आम लोगों को भी है, पर पिछले दिनों विधानसभा में जब एक सदस्य ने अधिकारियों-अभियंताओं के रिचार्ज का तान छेड़ा, तो माननीयों को काठ मार गया। राज्य के इस कड़वे सच को सुन सभी दिल की बात जुबां पर आ जाने की बात करने लगे। उस माननीय ने बड़े ही सलीके समझाया। राज्य के अभियंताओं को हर छह महीने में मंत्री के यहां रिचार्ज होना पड़ रहा है। एक मई-जून और दूसरा नवंबर-दिसंबर के महीने में। रिचार्ज हुआ नहीं कि मोबाइल की ही तरह इनकी भी वैलीडिटी समाप्त हो जाती है। उन्हें शंटिंग पोस्टिंग का रास्ता दिखा दिया जाता है। है न झारखंड का सच!

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजरंग