DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफसीआई का 60 करोड़ से अधिक सरकार पर बकाया

राज्य खाद्य निगम (एसएफसी) पर सरकार की नजर नहीं पहुंच रही है। अन्त्योदय योजना समेत विभिन्न मदों में निगम का सरकार पर 60 करोड़ रुपये से अधिक बकाया हो गया है। प्रबंधन के बार-बार अनुरोध पर भी उसे राशि नहीं दी जा रही। यही नहीं एसएफसी के कर्मचारियों को भी न एसीपी लाभ मिल रहा है और न ही वेतन विसंगति दूर की जा रही है।ड्ढr ड्ढr सूत्रों के अनुसार मई, 07 से फरवरी, 08 तक अन्त्योदय योजना में निगम ने 3रोड़ रुपये पूंजी लगायी। खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग को बार-बार पत्र देने पर भी निगम को उक्त राशि का भुगतान नहीं किया गया। बाढ़ राहत मद में भी निगम ने 24 जिलों में पीड़ितों के बीच वितरण के लिए अनाज दे दिये जिसकी अबतक भरपाई नहीं हुई। इसी प्रकार सरकार के दबाव पर निगम ने चीनी के कारोबार में हाथ डाला जिसमें उसे लगभग 13 करोड़ रुपये का घाटा उठाना पड़ा। हाल ही में निगम ने बिस्कोमान तो धान की खरीद के लिए 2 करोड़ रुपये कर्ज तो दिये ही खुद की किसानों से धान खरीदने के लिए 12 करोड़ रुपये फंसा दिये हैं। बिहार राज्य खाद्य निगम कर्मचारी संघ के महासचिव अजय कुमार दास कहते हैं कि कर्मचारियों ने अपनी मेहनत से निगम को घाटे की स्थिति से उबारा है। गत वर्ष बाढ़ राहत मद में एसएफसी ने दो करोड़ रुपये दिये। एसीपी लाभ नहीं मिलने और वेतन विसंगति की वजह से कर्मियों में काफी आक्रोश है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एफसीआई का 60 करोड़ से अधिक सरकार पर बकाया