अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विलय-अधिग्रहण के नए दौर का हुआ आगाज

टाटा-फोर्ड सौदे से भारतीय कंपनियों के लिए विदेशों में अधिग्रहण तथा विलय के एक नए दौर का आगाज हो गया है। देश भर में खासकर, उद्योग जगत में उत्साह की लहर दौड़ गई है। टाटा समूह ने जगुआर और लैंड रोवर मार्क कार ब्रांडों का अधिग्रहण कर सबका दिल जीत लिया है और इसमें सरकार और उद्योग चैंबर सभी शामिल हैं। सरकार ने जहां इसे भारत के निजी क्षेत्र की प्रतिस्पर्धी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में परचम फहराने की भूरि-भूरि प्रशंसा की, वहीं फिक्की, सीआईआई और एसौचैम जैसे देश के शीर्ष उद्योग चैंबरों ने भी काफी खुशी जताई। वाणिज्य मंत्री कमलनाथ ने कहा कि भारत की कंपनियों ने दुनिया भर को बतला दिया है कि मंदी के इस दौर में भी वे कितनी प्रगतिशील तथा सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि आज दुनिया भर में भारतीय कंपनियों की साख का डंका बज रहा है। फिक्की ने इस सौदे को जहां भारतीय उद्योग जगत के लिए क्वालिटी और ब्रांड प्रोजेक्शन में टर्निग प्वाईंट कहा, वहीं घरेलू मोर्चे पर भारतीय कंपनियों के शानदार वित्तीय परिणामों की भी सराहना की। फिक्की ने कहा कि अमेरिकी बाजार में जारी मंदी तथा यूरोप में इसके प्रभाव को देखते हुए उसे भरोसा है कि इंडिया इंक को विदेशी बाजारों में बेशकीमती कंपनियों को खरीदने के ऐसे और ज्यादा अवसर प्राप्त होंगे। गौरतलब है कि टाटा मोटर्स ने फोर्ड के साथ लगभग दो से ढाई अरब डालर का यह सौदा किया है। दिलचस्प बात यह भी थी कि भारत की ही एक अन्य प्रमुख आटो कंपनी महिन्द्रा एंड महिन्द्रा भी इस दौड़ में शामिल थी और इस सौदे के लिए अंत में इन्हीं दोनों भारतीय कंपनियों में मुकाबला हुआ। सीआईआई ने भी इस सौदे के लिए टाटा समूह की सराहना की तथा कहा कि यह सौदा भारतीय व्यवसाय के आगे बढ़ने की दिशा में एक मील का पत्थर है। सीआईआई के महासचिव एस एस मेहता ने टाटा समूह को बधाई दी और कहा कि शांत, पारदर्शी तरीके से किया गया यह अधिग्रहण टाटा समूह के दर्शन का एक हिस्सा है। उद्योग चैंबर एसौचैम ने इसके लिए टाटा को बधाई देते हुए कहा कि जिस पारदर्शी तथा व्यवसायिक तरीके से टाटा समूह के अध्यक्ष रतन टाटा ने इस सौदे को अंजाम दिया है, वह काबिले-तारीफ है। एसौचैम अध्यक्ष वेणुगोपाल एन धूत ने कहा कि भारतीय कंपनियां विदेशी परिसंपत्तियों को लगातार अधिग्रहित कर रही हैं लेकिन जिस तरीके से टाटा ने ऐसा किया है उसके लिए भारत को गर्व है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विलय-अधिग्रहण के नए दौर का हुआ आगाज