अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पनेसर की फिरकी में फंसा न्यूजीलैंड

स्पिनर मोंटी पनेसर की कातिलाना गेंदबाजी की बदौलत इंग्लैंड ने सीरीज 2-1 से जीत ली। न्यूजीलैंड यहां तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के पांचवें दिन 121 रन से हार गया। पनेसर ने 126 रन देकर छह विकेट लिए। 553 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम अपनी दूसरी पारी में 431 रन पर आउट हो गई। न्यूजीलैंड की तरफ से अपना पहला टेस्ट खेल रहे टिम साउथी ने सर्वाधिक नॉटआउट 77 रन बनाए। साउथी का यह पहला टेस्ट अर्धशतक भी रहा। इंग्लैंड ने 2005 के बाद पहली बार विदेशी जमीं पर टेस्ट सीरीज जीती। 2005 में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका को उसी केघर में मात दी थी। मेहमान टीम के स्पिनर पनेसर ने किवी बल्लेबाजों को अपनी फिरकी में फंसाकर टीम के जीतने की राह आसान कर दी। पनेसर ने अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए 126 रन देकर छह किवी बल्लेबाजों को पैवेलियन की राह दिखाई। पनेसर ने खेल के अंतिम दिन पहले ही सत्र में रॉस टेलर (74) और ब्रैंडन मैकुलम (42) के कीमती विकेट चटकाए। इन दोनों बल्लेबाजों के आउट होते ही मेजबान टीम के टेस्ट ड्रा कराने की भी उम्मीद खत्म हो गई। इससे पहले टेलर और मैकुलम ने कल के स्कोर 222 रन पर पांच विकेट से आज आगे खेलना शुरू किया। दोनों बल्लेबाजों ने क्रीज पर आते ही मेहमान गेंदबाजों की खबर लेनी शुरू कर दी। खासतौर पर टेलर ने तेज गेंदबाज रेयान साइडबॉटम के दिन के पहले ही आेवर में तीन चौके लगाकर अपने इरादे साफ कर दिए। टेलर ने टेस्ट में अपना तीसरा अर्धशतक 85 गेंदों में दस चौकों की मदद से पूरा किया। लेकिन पनेसर ने टेलर को कोलिंगवुड के हाथों कैच कराकर उनकी इस तूफानी पारी का अंत किया। टेलर ने मैकुलम के साथ 104 रन की साझेदारी की। कुछ देर बाद ही मैकुलम भी चलते बने। न्यूजीलैंड ने 281 रन तक सात विकेट गंवा दिए। मैकुलम ने अपनी 42 रनों की पारी में सात चौके लगाए। इसके बाद कप्तान डेनियल विटोरी और जीतन पटेल ने अगले विकेट के लिए 48 रनों की साझेदारी की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पनेसर की फिरकी में फंसा न्यूजीलैंड